Home अपना दून जल जीवन मिशन परियोजना – डीएम ने परियोजना की कार्य प्रगति पर...

जल जीवन मिशन परियोजना – डीएम ने परियोजना की कार्य प्रगति पर कार्यदायी संस्थाओं की कार्यशैली को सराहा

328
0
SHARE

डीबीएल संवाददाता

देहरादून। जनपद देहरादून में जल जीवन मिशन परियोजना की कार्य प्रगति को जिलाधिकारी अध्यक्ष जल जीवन मिशन डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने सराहा है। जिलाधिकारी ने मिशन के अन्तर्गत प्रत्येक ग्रामीण परिवार को क्रियाशील घरेलु जल संयोजन (एफएचटीसी) के कार्य की प्रगति से सन्तुष्टी व्यक्त की और जनपद की प्रगति अन्य सभी जनपदों से अव्वल रहने पर कार्यदायी संस्थाओं की प्रशंसा की तथा प्रगति को इसी तरह बनाये रखने को कहा। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन के कार्यों के अन्तर्गत जहां पर दोबारा निविदा करने की आवश्यकता हो रही है तो उसे पूर्ण करें। उन्होंने जल जीवन मिशन के समस्त कार्यों में ग्राम प्रधानों और स्थानीय लोगों की भागीदारी लेते हुए कार्य करने के निर्देश दिए। साथ ही सामुदायिक भागीदारी प्राप्त करने के लिए ग्राम पंचायत विकास अधिकारी व ग्राम विकास अधिकारी का भी सहयोग लेने को कहा।

जल जीवन मिशन परियोजना के कार्यों की समीक्षा बैठक करते हुए जिलाधिकारी ने जनपद की एफएचटीसी प्रगति को सराहनीय बताया। उन्होंने 30 अक्टूबर तक इस प्रगति को 75 फीसदी तक बढाने के निर्देश भी दिए। जिलाधिकारी ने परियोजना कार्यों की दैनिक प्रगति की जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देश दिए कि ऐसे ग्राम अथवा तोकें जहंा पूर्व में किसी भी प्रकार का पाईप टैप्ड जल संयोजन नहीं था ऐसे गावों व तोकों का विवरण प्राप्त करते हुए वहां पर भी घर-घर पाईप्ड वाटर जलापूर्ति करने के लिए पाईप टैप्ड वाटर तथा स्त्रोत से जलापूर्ति दोनों की एक साथ डीपीआर बनाने के जल संस्थान और पेयजल निगम को निर्देश दिए।

बैठक में उपाध्यक्ष जल जीवन मिशन मुख्य विकास अधिकारी नितिका खण्डेलवाल, नोडल अधिकारी उत्तराखण्ड अधीक्षण अभियन्ता पेयजल निगम एससी पंत, परियोजना प्रबन्धक व सदस्य सचिव जिला विकास अधिकारी सुशील मोहन डोभाल, अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान नमित रमोला, अधिशासी अभियन्ता पेयजल निगम मीसा सिंह सहित सम्बन्धित सदस्य उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY