Home उत्तराखंड शिविर में दी छात्रों को नशे से दूर रहने की नसीहत

शिविर में दी छात्रों को नशे से दूर रहने की नसीहत

634
0
SHARE

घनश्याम मैंदोली
घाट/चमोली। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण चमोली की ओर से नशामुक्त प्रदेश बनाने की मुहिम के तहत आयोजित शिविर में चमोली जिले के घाट विकासखंड के राजकीय इंटर काॅलेज कुण्डबगड़ के छात्र-छात्राओं को जागरूक किया गया। इस मौके पर काॅलेज के प्रधानाचार्य के साथ छात्रों के एंटीड्रग्स क्लब बनाये जाने पर भी चर्चा की गई।

शुक्रवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की टीम ने घाट विकासखण्ड के कुण्डबगड राइंकाॅ के छात्रों को उत्तराखंड को नशामुक्त नशा न करने और नशे के दुष्परिणामों के प्रति जागरूक किया। इस मौके पर पराविधिक कार्यकर्ता एमपी त्रिपाठी एवं देवेश्वरी बिष्ट ने छात्रों को विधिक सेवा प्राधिकरण की कार्यशैली की जानकारी के साथ ही विभिन्न प्रमाणपत्रों को बनाये जाने के बारे में विस्तार से बताया गया।

राइंकाॅ कुण्डबगड के प्रधानाचार्य एचएस गुंसाई ने विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से नशामुक्त देवभूमि संकल्प अभियान को सराहनीय बताया। उन्होंने कहा कि देश और समाज के भविष्य निर्माता युवाओं को नशे से बचना होगा।

इस मौके पर काॅलेज के शिक्षक सुखवीर सिंह बिष्ट, सुरेन्द्र सिंह डुंगरियाल, रजनी भेंटवाल ने भी अपने विचार रखे। काॅलेज के छात्रों ने नशा मुक्ति को लेकर नाटक के माध्यम से प्रस्तुति दी गई। शिविर में 225 छात्र-छात्रायें मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY