Home शिक्षा और रोजगार आईसीएफएआई यूनिवर्सिटी में “आईसीएफएआई मॉडल यूनाइटेड नेशन” सेमिनार का शुभारंभ

आईसीएफएआई यूनिवर्सिटी में “आईसीएफएआई मॉडल यूनाइटेड नेशन” सेमिनार का शुभारंभ

511
0
SHARE

देहरादून। आईसीएफएआई लॉ स्कूल के तत्वावधान में शुक्रवार से दो दिवसीय राष्ट्रीय स्तर “आईसीएफएआई मॉडल यूनाइटेड नेशन“ का शुभारंभ किया। दिनांक 14 एवं 15 सितंबर, 2018 को आयोजित होने वाली इस सेमिनार का उद्देश्य प्रतिभागियों को अंतर्राष्ट्रीय कूटनीति और प्रखर वक्ता के गुर सिखाना है। इस दौरान संयुक्त राष्ट्र समिति को नियंत्रित करने वाले नियमों के अलावा विस्तृत एजेंडे पर विचार साझा किए जाएंगे। सेमिनार में देश भर के विवि के करीब 250 प्रतिनिधि प्रतिभाग कर रहे हैं।

शुक्रवार को आईसीएफएआई लॉ स्कूल देहरादून में दो दिवसीय राष्ट्रीय स्तर “आईसीएफएआई मॉडल यूनाइटेड नेशन“ सेमिनार का उद्घाटन उत्तराखंड सरकार के उच्च शिक्षा मंत्री अतिथि डॉ धन सिंह रावत ने दीप प्रज्जवलित कर किया। उन्होंने कहा कि सम्पूर्ण व्यक्तित्व विकास के लिए इस तरह की कार्यशालाओं का आयोजन किया जाना बेहद महत्वपूर्ण है। उन्होंने सेमिनार के सफल संचालन के लिए अपनी शुभकामनाएं दीं। सेमिनार में जीएलसी मुंबई, एमिटी यूपी, एमआरआईयू, बीबीडीआईटी लखनऊ, डीएसएनएलयू, यूपीईएस, आईएमएस यूनिसन, लॉ कॉलेज देहरादून और अन्य राष्ट्रीय कानून विश्वविद्यालयों सहित विभिन्न कॉलेजों एवं यूएनजीए (संयुक्त राष्ट्र महासभा), अंतर्राष्ट्रीय एटॉमिक एनर्जी एजेंसियां और एआईपीपीएम के करीब देश भर से 250 की प्रतिनिधि प्रतिभाग कर रहे हैं।

सेमिनार में “अतिरिक्त न्यायिक, सारांश और मनमानी निष्पादन का प्रश्न“अयोध्या विवाद का कोर्ट के बाहर निस्तारण आदि विषयों पर चर्चा की जाएगी।इसके अलावा सेमिनार में विशेषज्ञों द्वारा कानूनी एवं शैक्षिक पहलुओं पर भी प्रकाश डाला जाएगा। सेमिनार के समापन सत्र के मुख्य अतिथि के रूप में दून की रूलक संस्था के अध्यक्ष पद्मश्री अवधेश कौशल प्रतिभाग करेंगे।

इस अवसर पर डॉ लीलावैथी पैलसेटी (राज्य तकनीकी अधिकारी, संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम), डॉ पवन के अग्रवाल (कुलपति, आईयूडी), प्रोफेसर डॉ मुदु विनय (प्रो-कुलगुरू, आईयूडी) ने प्रतिभागियों के साथ अपने विचार साझा किए। संकाय संयोजक अवीशेक राज एवं कानून संकाय की अकादमिक समन्वयक मोनिका खारोला आयोजन के समन्वय और संचालन में प्रमुख भूमिका निभा रहे हैं। छात्र संयोजक के रूप में बसुकीनाथ पांडे, आदित्य आनंद, हिमाणी अग्रवाल आदि सेमिनार में प्रतिभाग कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY