Home उत्तराखंड भूस्खलन के कारण यमुनोत्री पैदल मार्ग की हालत खराब

भूस्खलन के कारण यमुनोत्री पैदल मार्ग की हालत खराब

605
0
SHARE

उत्तरकाशी/डीबीएल संवाददाता। यमुनोत्री पैदल मार्ग पर भैरव मंदिर के निकट भूस्खलन के कारण मार्ग नीचे से खोखला हो गया है। जो कभी भी भरभरा कर नीचे गिर सकता है। जिससे यहां पर कभी भी कोई बड़ी दुर्घटना घटित हो सकती है। बावजूद इसके इस मार्ग को दुरुस्त करने की कोई सुध नहीं ली जा रही है। यमुनोत्री धाम जाने के लिए जानकीचट्टी से 5 किलोमीटर का पैदल मार्ग है। इस पैदल मार्ग पर भैरव मंदिर के निकट मार्ग के नीचे से भूस्खलन हुआ और मार्ग पूरी तरह खोखला हो गया है। मार्ग के खोखला होने से यह मार्ग कभी भी धंस सकता है। इस मार्ग पर यमुनोत्री धाम की यात्रा पर आने वाले बड़ी संख्या में तीर्थ यात्रियों का हर रोज आवागमन होता रहता है। जिससे मार्ग पर चलने वाले स्थानीय लोगों एवं तीर्थ यात्रियों का भारी दबाव बना रहता है। आवागमन करने वाले लोगों के दबाव के चलते खोखला हो रखा है यह मार्ग कभी भी धराशाई हो सकता है। जिससे कोई बड़ी दुर्घटना घटित हो सकती है। यमुनोत्री मंदिर समिति के सचिव कृतेश्वर उनियाल का कहना है कि भैरव मंदिर के निकट खोखला हो रखे इस पैदल मार्ग की कोई सुध नहीं ली जा रही है। उन्होंने कहा है कि जल्द से जल्द यदि इस खोखले हुए मार्ग का सही ट्रीटमेंट नहीं किया गया तो यह कभी भी गिर सकता है। जो बड़ी दुर्घटना को न्योता दे रहा है। वहीं मार्ग के गिरने से यमुनोत्री धाम का आवागमन भी बाधित हो सकता है। उन्होंने मांग की है कि इस मार्ग का समय रहते जल्दी से जल्दी उचित ट्रीटमेंट किया जाए।

LEAVE A REPLY