Home उत्तराखंड जनता को धरातल पर दिखे कार्य: कौशिक

जनता को धरातल पर दिखे कार्य: कौशिक

734
0
SHARE

देहरादून। उत्तराखंड सचिवालय में शहरी विकास एवं आवास मंत्री मदन कौशिक ने विभाग की समीक्षा बैठक के दौरान कहा कि जनता को कार्य धरातल पर दिखना चाहिये। स्वच्छता विषय पर विशेष रूप से फोकस करते हुए उन्होंने कहा कि हमें समय से पूर्व लक्ष्य हासिल करना है।

शुक्रवार को शहरी विकास विभाग की समीक्षा करते हुए मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि स्वच्छता जागरूकता के लिए विशेष अभियान चलाया जाए। खुले में शौच को पूर्णतः प्रतिबन्धित किया जाए। इसके लिए जुर्माना जैसे कड़े प्रावधान लागू किए जाए। उन्होंने कहा कि कार्य में ढिलाई बरतने वाले अधिकारी/कर्मचारी दंडित होंगे। अच्छा कार्य करने वाले व्यक्ति, संस्था, विभाग को पंण्डित दीन दयाल उपाध्याय जन्म दिवस 25 सितम्बर को सम्मानित किया जायेगा और स्वच्छता कार्यक्रम अवार्ड भी प्रदान किया जायेगा। स्थानीय निकायों की प्रगति, टैक्स वसूली, डोर टू डोर कलेक्शन साॅलड वेस्ट इत्यादि लक्ष्यों को नहीं पूरा करते हैं, तो विभाग का राज्य वित्त आयोग की त्रैमासिक किस्त वेतन भुगतान के अतिरिक्त सभी धन रोक दिया जायेगा।

बैठक में प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते समय जानकारी दी गई कि अभी तक कुल एक लाख दो हजार फार्म एकत्रित किये गये हैं। इसके सत्यापन और परीक्षण के बाद इसे केन्द्र सरकार को भेजा जायेगा। बैठक में ईजी डूइंग बिजनेस, आॅनलाईन टैक्स प्रणाली पर बल दिया। अभी जीएसटी लागू करने के लिए कुल 1768 जीएसटी मित्र का पंजीकरण कर लिया गया है। बैठक में निर्देश दिया गया कि स्थानीय निकाय निर्वाचन हेतु समिति का गठन पश्चात परिसीमन का कार्य तेज किया जाए। दीन दयाल अन्त्योदय योजना के अन्तर्गत स्वरोजगार, शहरी निराश्रित आश्रय योजना, कौशल विकास स्वरोजगार योजना पर विशेष ध्यान फोकस करने के लिए कहा गया।

एडीबी योजना की समीक्षा करते हुए मंत्री कौशिक ने कहा कि सड़क खोदने के बाद इसे तत्काल ठीक भी किया जाए। लापरवाही बरतने पर ठेकेदार के विरुद्ध पेनल्टी लगाकर सेक्योरिटी जब्त की जाए और संबधित इंजीनियर के विरुद्ध भी कार्यवाही की जाए। बैठक में विद्युत में बचत के उद्देश्य से परंपरागत बल्ब के स्थान पर एलईडी का प्रयोग करने और इसमें स्थानीय उद्योगों को प्राथमिकता दिए जाने की बात भी कही गई।

बैठक में सचिव शहरी विकास राधिका झा, अपर निदेशक नवनीत पाण्डेय, अपर सचिव शहरी विकास विनोद सुमन, अपर सचिव एडीबी श्रीधर बाबू अदांकी सहित नगर निगमों के नगर आयुक्त आदि उपस्थित थे।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, Urban Development Department, Review Meeting, Madan Kaushik

LEAVE A REPLY