Home उत्तराखंड … तो किसानों का दर्द कौन सुनेगा : किशोर

… तो किसानों का दर्द कौन सुनेगा : किशोर

728
0
SHARE

देहरादून। कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश चुनाव प्रभारी पीआरओ किशोर उपाध्याय ने कहा कि किसानों के तुरंत कर्ज माफ किये जाने चाहिए। पंजाब में कांग्रेस सरकार ने किसानों के 2 लाख तक के कृषि ऋण माफ किये हैं जिससे 10.25 लाख किसानों को लाभ होगा। दूसरी तरफ उत्तराखण्ड की डबल इंजन सरकार के मुखिया त्रिवेन्द्र रावत और सहकारिता मंत्री के बयान दुःखद और चिंताजनक हैं। उन्होंने कहा कि बेहद दुःखद विषय है कि उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री कहते हैं कि मेरे ऊपर भी 11 लाख का कर्ज है, मंत्री तीरथ कहते हैं कि किसान ने आत्म हत्या पिछले साल की होगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश की बागडोर संभालने वाले ही जब अपना दर्द बयां करने लगेंगे तो किसानों का दर्द कौन सुनेगा।

किशोर उपाध्याय ने मंगलवार को पत्रकार वार्ता के दौरान यह भी कहा कि किसानों के कर्ज माफ करना ही काफी नहीं होगा बल्कि किसानों की समस्याओं पर भी गहन विचार करने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि पहाड़ और मैदान के किसानों की सभी समस्याओं के निवारण के लिए जल्द ही रणनीति बनाकर कार्य किया जाएगा।

प्रेस वार्ता में प्रदेश महामंत्री सुरेन्द्र रांगढ़, प्रदेश प्रवक्ता संजय भट्ट, प्रदेश सचिव परिणीता बड़ोनी, शांति रावत, आईटी अध्यक्ष अमरजीत सिंह उपस्थित थे।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, farmers, Kishor Upadayay

 

LEAVE A REPLY