Home उत्तराखंड यूवाईटीएस 2016 सर्वे रिपोर्ट : उत्तराखंड में युवाओं के बीच कम हुई...

यूवाईटीएस 2016 सर्वे रिपोर्ट : उत्तराखंड में युवाओं के बीच कम हुई तंबाकू की लत

611
0
SHARE

देहरादून। उत्तराखंड युवा तंबाकू सर्वेक्षण (यूवाईटीएस) 2016 की रिपोर्ट के अनुसार उत्तराखंड के युवाओं के बीच तंबाकू की लत कम हुई है। सर्वे के अनुसार राज्य में 13-17 आयु वर्ग तक के युवाओं के बीच तंबाकू की खपत में गिरावट दर्ज की गई है। सोमवार को राज्यपाल डॉ केके पाल ने रिपोर्ट को जारी करते हुए उत्तराखंड तंबाकू मुक्त पहल (यूटीएफआई) की गतिविधियों को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए राज्य के शिक्षा विभाग को बधाई दी। तंबाकू नियंत्रण को लेकर की गई पहल की प्रशंसा करते हुए उन्होंने आशा जताई कि उत्तराखंड को तंबाकू मुक्त राज्य बनाने में हम सभी जरूर सफल होंगे।

राजभवन में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान यूवाईटीएस की सर्वे रिपोर्ट को जारी करते हुए राज्यपाल ने कहा कि तंबाकू के खिलाफ चलाई जा रही मुहिम का नतीजा है कि अब सार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान करने वाले व्यक्तियों की संख्या में गिरावट आई है। उन्होंने कहा कि ग्लोबल एडल्ट तंबाकू सर्वेक्षण, 2017 के अनुसार भारत में 81 लाख तंबाकू उपभोक्ताओं की संख्या में गिरावट आई है। उत्तराखंड में 92 फीसदी स्कूली बच्चों ने तंबाकू को छोड़ने का प्रयास किया है।

वर्ल्ड लंग फाउंडेशन साउथ एशिया के अध्यक्ष डॉ. जीआर खत्री ने बताया कि यूवाईटीएस 2016 की सर्वे रिपोर्ट विश्व स्वास्थ्य संगठन, सीडीसी अटलांटा और यूटीएफआई के संयुक्त प्रयासों से तैयार की गई है। उन्होंने बताया कि उत्तराखंड में 2013 में तंबाकू का सेवन करने वाले लोगों के आंकड़ों पर नजर डालें तो यह 13 फीसदी से गिरकर 7.4 हो गया है।

उत्तराखंड सबोर्डिनेट सर्विसेज सलेक्शन कमीशन के अध्यक्ष पूर्व अपर मुख्य सचिव एस राजू ने कहा कि तंबाकू से युवा वर्ग को बचाने के लिए हमें उन्हें विभिन्न तरीकों से जागरूक करना होगा। यूटीएफआई के प्रयासों को उन्होंने सराहनीय बताते हुए इस दिशा में और ज्यादा प्रयास करने की आवश्यकता पर जोर दिया।

कार्यक्रम के दौरान पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड अनिल रतूड़ी, सीडीसी, अटलांटा तंबाकू प्रभाग के प्रमुख डॉ. इंदु अहलूवालिया आदि ने भी अपने विचार साझा किए।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, Governor, UVTS Survey Report, Tobacco Addiction

LEAVE A REPLY