Home उत्तराखंड उत्तराखंड पुलिस का ‘ऑपरेशन स्माइल व ऑपरेशन शिनाख्त’ 01 दिसंबर से

उत्तराखंड पुलिस का ‘ऑपरेशन स्माइल व ऑपरेशन शिनाख्त’ 01 दिसंबर से

110
0
SHARE

सराहनीय –

देहरादून/डीबीएल संवाददाता। उत्तराखंड पुलिस प्रदेश में गुमशुदा व लावारिस बच्चों की तलाश में पूर्व में चलाए गए ऑपरेशन शिनाख्त की दर्ज पर दोबारा से अभियान चलायेगी। इस बार इस मुहिम को ‘ऑपरेशन स्माइल व ऑपरेशन शिनाख्त’ नाम दिया जाएगा। खास बात यह रहेगी कि 01 दिसम्बर 2019 से 02 माह के लिए संचालित किए जाने वाले इस अभियान के दौरान गुमशुदा पुरूष और महिलाओं को भी तलाश किया जाएगा।

उत्तराखंड पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने कहा है कि ‘ऑपरेशन स्माइल व ऑपरेशन शिनाख्त’ अभियान के तहत प्रदेश के जनपदों में पुलिस टीम बनाकर कार्य योजना को अंजाम दिया जाएगा। हर टीम में महिला पुलिसकर्मी को भी अनिवार्य रूप से शामिल किया जा रहा है। इन कार्य में सहयोग के लिए विधिक एवं टेक्निकल टीम भी बनाई गईं हैं। मुख्यालय स्तर पर अभियान की नोडल अधिकारी ममता वोहरा, अपर पुलिस अधीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था को जिम्मेदारी सौंपी गई है।

महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने बरामद बच्चों के सम्बन्ध में यदि किसी अपराध का होना पाया जाये तो सम्बन्धित के विरूद्ध तत्काल अभियोग दर्ज कर कार्यवाही की जाये। अभियान हेतु सोशल मीडिया का भी सहयोग लिया जाये। बच्चों से सम्बन्धित प्रचलित समस्त कानूनी एवं विधिक प्राविधानों आदि की जानकारी प्रदान किये जाने हेतु अभियान प्रारम्भ करने से पूर्व प्रत्येक जनपद में एक वर्कशाप का आयोजन किया जाये।

डीजी अपराध एवं कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने अभियान की सफलता के लिए सम्बन्धित विभागों के अलावा एनजीओ और चाइल्ड हेल्प लाइन से समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिए हैं।

पूर्व में 1561 गुमशुदा बच्चों को गया है खोजा :

ऑपरेशन स्माइल अभियान के तहत वर्ष 2015 से माह फरवरी 2018 तक उत्तराखण्ड (868) और अन्य प्रदेशों (693) से कुल 1561 गुमशुदा बच्चों को बरामद किया गया था। वर्ष 2018 में दिनांक 01 मई से 20 जुलाई 2018 तक चलाये गये ऑपरेशन शिनाख्त अभियान में कुल 68 अज्ञात शवों की शिनाख्त की गयी और कुल 424 गुमशुदा लोगों को बरामद किया गया।

LEAVE A REPLY