Home उत्तराखंड विकासनगर में सरकार के रवैये से खफा आशा कार्यकत्रियों ने शुरू की...

विकासनगर में सरकार के रवैये से खफा आशा कार्यकत्रियों ने शुरू की भूख हड़ताल

1116
0
SHARE

विकासनगर। सरकार से लंबे समय से अपनी मांगों पर सकारात्मक कार्यवाही की मांग कर रही आशा कार्यकत्रियों ने मांगों पर सरकार की अनदेखी के चलते भूख हड़ताल शुरू कर दी है। सोमवार धरना स्थल पर बैठी आशा कार्यकत्रियों ने सरकार के रवैये के खिलाफ जमकर नाराजगी जताई। उन्होंने चेतावनी दी है कि जब तक सरकार उनकी मांगों का समाधन नहीं कर देती तब तक भूख हड़ताल जारी रखी जाएगी।

सोमवार को आशा कार्यकत्री संगठन की जिलाध्यक्ष सलिता चैहान ने कहा कि अन्य स्कीम वर्करों की भांति आशाओं को भी न्यूनतम मानदेय दिया जाना चाहिए, लेकिन अभी तक सरकार की और से किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही इस दिशा में नहीं की गई। उन्होंने कहा कि आशाएं लंबे समय से स्वास्थ्य विभाग में अपनी सेवाएं दे रही हैं और स्वास्थ्य मिशन की विभिन्न योजनाओं में वे मुख्य भूमिका निभा रही हैं, लेकिन आशाओं को सिर्फ प्रतिपूर्ति राशि के भरोसे छोड़ दिया गया है। वह भी उन्हें समय पर नहीं दी जाती। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार हमारी मांग को अनसुना कर रही है। वहीं आशाओं को आर्थिक तंगी से जूझना पड़ रहा है। मांगों को लेकर आशाएं कई बार आंदोलन कर चुकी है, लेकिन उन्हें सरकार की ओर से सिर्फ कोरे आश्वासन दिये जा रहे हैं।

धरना स्थल पर मीना राणा, गुलाबी नेगी, मीरा, मंगला नेगी, सोना कश्यप, जाहिद, आरती राणा, शांति डंगवाल, कुसुम मधवाल, कमलेश, सरस्वती, कांता देवी, मीरा रावत आदि मौजूद रहीं।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, Vikasnagar, Asha Workers, Hunger strike

LEAVE A REPLY