Home उत्तराखंड केदारनाथ धाम में लेजर शो के दौरान प्रचार-प्रसार पर मंदिर समिति ने...

केदारनाथ धाम में लेजर शो के दौरान प्रचार-प्रसार पर मंदिर समिति ने चेताया

686
0
SHARE

रुद्रप्रयाग। केदारनाथ में चल रहे लेजर शो के जरिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का प्रचार-प्रसार किये जाने पर बद्री केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कड़ा विरोध जताया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी भगवान नहीं हैं, जो अपनी आकृति को केदारनाथ मंदिर पर दिखा रहे हैं। वे आम इंसान हैं, अपनी मर्यादा में रहें। केदारनाथ में स्वयं भगवान शिव का वास है। ऐसे में पीएम का प्रचार किया जाना धार्मिक भावनाओं के साथ खिलवाड़ है। धाम में सिर्फ शिव की महिमा को ही दिखाया जाना चाहिए।

दरअसल, केदारनाथ धाम में हर दिन शाम के समय लेजर शो का आयोजन किया जा है, यह आयोजन पांच मई तक होगा। लेजर शो में केदारनाथ की महिमा का वर्णन किया जा रहा है, लेकिन कपाट खुलने के मौके पर हजारों श्रद्धालुओं की मौजूदगी में लेजर शो में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का प्रचार-प्रसार कार्यक्रम दिखाया गया। ऐसे में मंदिर समिति अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने आपत्ति जता दी। साथ ही अन्य तीर्थयात्रियों ने भी इसका कड़ा विरोध किया। देश-विदेश से आये तीर्थयात्रियों का कहना था कि केदारनाथ मंदिर पर पौराणिक महिमा को दिखाये जाने का कोई औचित्य ही नहीं है। भगवान स्वयं केदारनाथ में विराजमान हैं। ऐसे में उनकी महिमा और पीएम मोदी और उनकी सरकार का प्रचार किये जाने से धार्मिक आस्था के साथ सरासर खिलवाड़ है। उन्होंने आरोप लगाया कि केदारनाथ मंदिर पर लेजर शो के जरिये पीएम मोदी सरकार का प्रचार किया गया, यह आने वाले भविष्य के लिए शुभ संकेत नहीं हैं।

बद्री केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कहा कि गुजरात की एक कंपनी इस शो का आयोजन करवा रही है। मंदिर समिति को विश्वास में लिए बगैर इस लेजर शो का आयोजन किया जा रहा है। आयोजक कम्पनी से पता चला है कि इस शो में 22 मिनट तक केदारनाथ की महिमा और पांच मिनट तक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सरकार के केदारनाथ धाम में किये गए कार्यों को दिखाया जाना था। मंदिर समिति अध्यक्ष ने विरोध जताते हुए कहा कि मंदिर की दीवारों पर भगवान के अलावा किसी भी नेता की फोटो नहीं दिखाई जानी चाहिए। यह धार्मिक भावना के साथ खिलवाड़ है, इसका पुरजोर विरोध किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि मोदी के एनिमेशन फिल्म को लेजर शो का रूप दिया जा रहा है। भाजपा नेता केदारनाथ में मोदी का गुणगान कराना चाहते हैं, लेकिन ऐसा नही होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि लेजर शो में मात्र केदारनाथ की महिमा का वर्णन होना चाहिए, किसी नेता या पार्टी का नहीं। भक्त बाबा के दर्शनों को आते हैं, न कि किसी नेता के बारे में जानने के लिए। मंदिर समिति के अध्यक्ष के विरोध के बाद लेजर शो का आयोजन कर रही कंपनी ने मोदी सरकार की ओर से केदारनाथ धाम में कराए गए कार्यों को दिखाना बन्द कर दिया गया है। अब केवल शिव महिमा ही लेजर शो के जरिये दिखाई जा रही है।

Key Words : Uttrakhand, Rudraprayag, Kedarnath, Temple committee, laser show

LEAVE A REPLY