Home शिक्षा और रोजगार त्यूनी महाविद्यालय में छात्र तो चाहते हैं पढ़ना, लेकिन शिक्षक हैं नहीं...

त्यूनी महाविद्यालय में छात्र तो चाहते हैं पढ़ना, लेकिन शिक्षक हैं नहीं !

862
0
SHARE

त्यूनी। राजकीय महाविद्यालय त्यूनी के छात्र-छात्राओं ने महाविद्यालय में शिक्षकों व प्राचार्य की नियुक्ति की मांग को लेकर त्यूनी बाजार से लेकर महाविद्यालय तक जुलूस निकाला। उन्होंने महाविद्यालय परिसर में शासन प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर जोरदार प्रदर्शन किया, जिसके बाद छात्र धरने पर बैठ गए। छात्रों ने प्राचार्य व अध्यापक की नियुक्ति कराने की मांग को लेकर शिक्षामंत्री को ज्ञापन भी भेजा साथ ही चेतावनी दी है कि जब तक समस्या का समाधन नहीं किया जाता उनका आंदोलन जारी रहेगा।

शिक्षा मंत्री धनसिंह रावत को भेजे ज्ञापन में छात्रों ने कहा है कि राजकीय महाविद्यालय त्यूनी अनेक प्रकार की समस्याओं से जूझ रहा है। डिग्री काॅलेज में शिक्षकों का टोटा बना हुआ है और प्राचार्य की नियुक्ति भी नही हुई है। जिसके कारण छात्रों का भविष्य अंधकार में डूबता नजर आ रहा है। उन्होंने कहा कि राजनीति विज्ञान, अंग्रेजी, भूगोल, समाजशस्त्र के सभी पदों पर कोई भी शिक्षक उपलब्ध नहीं है। ज्ञापन में यह भी कहा गया है कि त्यूनी महाविद्यालय 2 जनवरी 2006 से प्रारंभ हुआ लेकिन वर्तमान तक महाविद्यालय में शिक्षकों की नियुक्ति न होना लापरवाही दर्शाने वाला है। ज्ञापन में शिक्षामंत्री से शीघ्र समस्याओं का समाधन करने की मांग की गई है।

धरना प्रदर्शन करने वालों में महाविद्यालय अध्यक्ष सोनिया, उपाध्यक्ष अंजली, महासचिव जयमाला शर्मा, सचिव प्रियंका, अम्बिका ठाकुर, महाविद्यालय प्रतिनिधि नरेंद्र चैहान, मोनिका शोक्टा, संदीप कुमार, प्रियंका राठौर, रीतू रावत, किरन, सुनीता सहित सैंकड़ों छात्र शामिल रहे।

Key Words : Uttarakhand, Tyuni, College, Students, teachers, protest

 

LEAVE A REPLY