Home सामाजिक सरोकार एसएसएसओ इंडिया का ‘वृक्ष लगाओ-जीवन दिलाओ’ अभियान पर जोर

एसएसएसओ इंडिया का ‘वृक्ष लगाओ-जीवन दिलाओ’ अभियान पर जोर

700
0
SHARE

देहरादून। श्री सत्य साईं सेवा संगठन भारत (एसएसएसएसओ इंडिया)-एक बहु सांस्कृतिक अंतर्राष्ट्रीय आध्यात्मिक सेवा संगठन, प्रशांति निलयम, पुट्टपार्थी, आंध्र प्रदेश से ‘स्वच्छता से दिव्यता तक’ नामक अपने राष्ट्रव्यापी स्वच्छता कार्यक्रम के शुभारंभ की घोषणा की। सत्य साईं संगठनों के अखिल भारतीय अध्यक्ष श्री नीमीश पंड्या एवं छत्तीसगढ़ के माननीय राज्यपाल श्री बलराम दास टंडन की तत्काल उपस्थिति में रायपुर में 2 अक्टूबर 2017 को गांधी जयंती पर सफाई अभियान चलाए गए। यह कार्यक्रम 20 सितंबर 2017 को पुटपर्ती के भगवान श्री सत्य साईं बाब के ‘अवतार घोषणा दिवस’ पर समाप्त होगा। पूरे देश में स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए देश भर में यह 18 दिन की पहल की जा रही है।

इस साल एसएसएसओ इंडिया ने ‘वृक्ष लगाओ-जीवन दिलाओ’ अभियान पर जोर दिया। इस पहल पर अखिल भारतीय अध्यक्ष श्री नीमीश पंड्या, ने कहा, वृक्षारोपण में भाग लेने के लिए पारिस्थितिकी तंत्र के साथ एक सम्बन्ध है-एक पेड़ का पौधा, एक विरासत क्या होगा? उन्होंने भारत के समस्त राज्य सरकारों और वन विभागों को धन्यवाद दिया। एसएएसएसओ इंडिया सेवा स्वयंसेवकों जैसे महिला, सेवादल, बाल विकास बच्चों और संगठन के युवाओं को भारत के विभिन्न राज्यों में एक ही समय पर पौधे लगाकर इस पहल का समर्थन करने के लिए आगे आने को कहा।

देशभर में ऊपर वर्णित आठ लाख सेवा स्वयंसेवक इस महान राष्ट्र निर्माण पहल में भाग लेंगे। स्वच्छता अभियान को कस्बों, गांवों और महानगर तीन भागों में विभाजित किया जाएगा। इस साल 2500 से अधिक श्री सत्य साईं सेवा समितियां भारत के 20 राज्यों में 1000 से अधिक गतिविधियों के साथ अपनी तरह के राष्ट्रव्यापी स्वच्छता कार्यक्रम में भाग लेने के लिए तैयार हैं। सबसे पहले, गांव के स्वच्छता कार्यक्रम का उद्घाटन किया जाएगा जो सेवा स्वयंसेवक पूर्व-निर्धारित स्थानों की सफाई शुरू करंेगे। बाल विकास गुरु छोटे बच्चों के लिए ड्राइंग, निबंध और कविता जैसी विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन करेंगे। संगठन का निःस्वार्थ युवा सेवा दल भी स्वच्छता अभियान पर लघु फिल्म दिखाएगा, इसके बाद स्वच्छता जागरूकता से जुड़े विषयों पर ‘हाथ धोने के महत्व’ समस्त बाल विकास, व्यक्तिगत, स्वच्छता का महत्व आदि पर चर्चा होगी।

शहरों और झोपड़पट्टियों में नगर निगम की ठोस कचरा प्रबंधन प्रणाली का समर्थन करने के लिा सेवा स्वयंसेवक कचरा संग्रह के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए घर-घर के दरवाजे तक आयेंगे।

इस अवसर पर भारत के श्री सत्य साईं सेवा संगठन, अखिल भारतीय अध्यक्ष निमीष पंड्या ने कहा कि यह हमारे स्वामी द्वारा उपयोग किए गए बोली से प्रेरित सत्य साईं सेवा संगठन द्वारा संचालित इस स्वच्छता अभियान का दूसरा वर्ष है’ सफाई भक्ति के आगे ‘स्वच्छता के बारे में जागरूकता पैदा करके हम अपने देश की सेवा करने में सक्षम हैं।

LEAVE A REPLY