Home राजनीतिक राज्य के विकास के लिए संतों का आशीर्वाद भी जरूरी : त्रिवेन्द्र

राज्य के विकास के लिए संतों का आशीर्वाद भी जरूरी : त्रिवेन्द्र

1007
0
SHARE

हरिद्वार/देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने गुरूवार को हरिद्वार में श्रीसत् पंच परमेश्वर पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन राजघाट कनखल में महन्त संतोषमुनी जी की श्रद्धांजली सभा में प्रतिभाग किया और उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किये। मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि संत हमारी संस्कृति के संवाहक हैं। भारतीय संस्कृति सभी संस्कृतियों में श्रेष्ठ है। इसी लिए भारतीय धर्म एवं संस्कृति सनातन संस्कृति के रूप में दुनिया में प्रचलित है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार राज्य के चहुंमुखी विकास के लिये निरन्तर प्रयासरत है। उत्तराखण्ड के हर क्षेत्र में तेजी से विकास हो इसके लिए संतों का आशीर्वाद भी आवश्यक है।

मुख्यमंत्री रावत ने जूना अखाड़ा के आचार्य महामण्डलेश्वर अवधेशानन्द गिरी महाराज एवं जगतगुरू आश्रम में शंकराचार्य राजराजेश्वराश्रम महाराज से भी भेंट की। जिसके बाद उन्होंने भारत माता मन्दिर के संस्थापक स्वामी सत्यमित्रानन्द गिरी जी महाराज से भारत माता मन्दिर में भेंट की एवं पूजा-अर्चना की। मुख्यमंत्री ने शांतिकुंज में शांतिकुंज के अधिष्ठाता डॉ. प्रणव पाण्ड्या एवं शैल दीदी से भेंट कर शांतिकुंज में सजल श्रद्धा और प्रखर प्रज्ञा समाधि स्थल पर पुष्पांजली अर्पित की।

सीएम सुनेंगे जनता की समस्याएं :
देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत शुक्रवार 31 मार्च को सुबह 9 से 10.30 बजे तक जनता दर्शन हॉल, सीएम कैम्प कार्यालय, न्यू कैंट रोड पर आम जनता से मिलेंगे। इस अवसर पर जनसाधारण की समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण किया जाएगा। शासन के अधिकारियों व देहरादून के जिलाधिकारी व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को भी जनता मिलन कार्यक्रम में उपस्थित रहने के निर्देश दिए गए हैं।

Key Words : Uttarakhand, dehradun, Haridwar, CM, Saints, blessings

LEAVE A REPLY