Home शिक्षा और रोजगार सूबे में शिक्षकों के तबादलों पर लगी रोक

सूबे में शिक्षकों के तबादलों पर लगी रोक

652
0
SHARE

देहरादून। उत्तराखंड सरकार के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में किए गए 1600 माध्यमिक शिक्षकों के तबादले पर रोक लगा दी है। हरीश रावत सरकार ने आखिरी दो महीनों में राज्य के करीब 1600 माध्यमिक शिक्षकों के तबादले किए थे और उन्हें अप्रैल से नए स्थान पर ज्वाइन करना था, लेकिन शिक्षा मंत्री पांडेय के निर्देश के बाद अपर मुख्य सचिव डॉ. रणवीर सिंह ने पूर्व में हुए स्थानांतरण रद्द करने का आदेश जारी कर दिए हैं।

कांग्रेस की पूर्व सरकार ने पिछले साल राज्य में तबादला सत्र शून्य घोषित किया था, लेकिन हरीश रावत सरकार ने शिक्षकों की भारी मांग को देखते हुए उनके तबादले कर दिए थे, लेकिन भाजपा सरकार के सत्ता संभालने के बाद शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने पिछली सरकार के कार्यकाल में हुए सभी तबादलों को रोकने के निर्देश दिए थे। हालांकि शिक्षा मंत्री ने नियमानुसार हुए तबादलों को पर किसी तरह की कार्रवाई न करने का भरोसा भी दिया है।

निदेशक जौनसारी ने किया स्कूलों का औचक निरीक्षण : 
देहरादून। प्रारंभिक शिक्षा निदेशक सीमा जौनसारी ने शुक्रवार को कई स्कूलों का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने प्राथमिक विद्यालय तुनवाला द्वितीय, प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालय कुआंवाला और प्राथमिक विद्यालय मोतीचूर का निरीक्षण किया। निदेशक के निरीक्षण के दौरान प्राथमिक विद्यालय तुनवाला और कुआंवाला बंद मिले। जबकि मोतीचूर विद्यालय में छात्रा संख्या काफी कम पाई गई। कई शिक्षक डयूटी से गायब भी मिले। यहां शिक्षकों की उपस्थिति पंजिका चेक की गई तो कई शिक्षक बिना अवकाश लिए ही छुट्टठ्ठी पर थे। निदेशक ने कहा है कि गैरहाजिर शिक्षकों के खिलाफ कड़ी विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, Restrictions, Teacher, Transfers

LEAVE A REPLY