Home अपना दून रिस्पना पुनर्जीवीकरण अभियान : काबिले तारीफ रही दून सिविल डिफेन्स टीम की...

रिस्पना पुनर्जीवीकरण अभियान : काबिले तारीफ रही दून सिविल डिफेन्स टीम की मुस्तैदी

385
0
SHARE

P1
P3
P2
P4

देहरादून। राजपुर के निकट कैरवान गांव, तपोभूमि में मिशन रिस्पना से ऋषिपर्णा अभियान में सिविल डिफेन्स की टीम ने बढ़चढ़कर प्रतिभाग किया। संगठन के वार्डन नियत समय पर अपनी भागीदारी के लिए पहुंचे और उन्होंने पूरी निष्ठा के साथ अपने कार्य को अंजाम दिया।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शनिवार को कैरवान गांव, तपोभूमि में मिशन रिस्पना से ऋषिपर्णा अभियान के अन्तर्गत वृक्षारोपण हेतु गड्ढ़ा खुदान कार्य का शुभारम्भ किया। उन्होंने विभिन्न संगठनों और स्कूली छात्रों की मौजूदगी पर खुशी जाहिर करते हुए सिविल डिफेन्स के योगदान को सराहा।

डीएम देहरादून एसए मुरुगेशन ने बताया है कि जुलाई माह में इन गड्ढ़ों में वृक्षारोपण का कार्य होगा। उन्होंने यह भी बताया कि कुल लगाये जाने वाले पौधों में 30 प्रतिशत फल वाले पौधे रोपे जाएंगे।

सिविल डिफेन्स के अस्टिंट डिप्टी कमाडेंट जनरल/उप नियंत्रक सिविल डिफेन्स कोर देहरादून सीएस बोथ्याल ने बताया कि सिविल डिफेन्स कोर आपदा से पूर्व प्रशिक्षण और आपदा के समय राहत और बचाव कार्यों के लिए अहम् भूमिका का निर्वहन करता रहा है। पर्यावरण संरक्षण की मुहिम में भी कोर के वार्डन पूरी मुस्तैदी से अपने कार्य को अंजाम देने में जुट गए हैं।

चीफ वार्डन सतीश अग्रवाल ने कहा कि देहरादून शहर के हर वार्ड के वार्डन रिस्पना पुनर्जीवीकरण मुहिम में शामिल होने पहुंचे हैं। उन्होंने कहा कि उनकी टीम का समय पहुंचना और सौंपे गए दायित्व को पूरी जिम्मेदारी के साथ निभाना बेहद गौरव का विषय है।

डिवीजन वार्डन उमेश्वर रावत एवं प्रभागीय वार्डन योगेश अग्रवाल ने गड्ढ़ा खुदान कार्य में सिविल डिफेन्स टीम के अलावा विभिन्न संगठनों के कार्यकर्ताओं और स्कूली छात्रों का सहयोग और मागदर्शन करने में अहम् भूमिका निभाई।

इस अवसर पर सिविल डिफेन्स के लोकेश गर्ग, आलम सिंह रावत, राजीव शर्मा, विनोद यादव, पंकज भार्गव, संजीव कुमार, शारदा गुप्ता, शिवम अग्रवाल, आयुश चन्देल, निन्यानंद चमोली, डीके फ्लोरिया, ओम प्रकाश पाण्डे, प्रवीन भारद्वाज, आर. प्रजापति, दीपक कुमार, उमाशंकर, सूर्य प्रकाश भट्ट, श्रीधर शर्मा, संजय उनियाल, नन्द किशोर, योगेन्द्र चौधरी आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY