Home संस्कृति एवं संभ्यता उत्तराखंड और नेपाल के बीच रोटी-बेटी का सम्बंध : पन्त

उत्तराखंड और नेपाल के बीच रोटी-बेटी का सम्बंध : पन्त

622
0
SHARE

कैबिनेट मंत्री प्रकाश पंत ने किया गोर्खा दशैं-दीपावली महोत्सव का शुभारंभ :

देहरादून। वीर गोर्खा कल्याण समिति के तत्वावधान में गोर्खा दशैं-दीपावली महोत्सव-2017 दो दिवसीय मेले का शुभारंभ सूबे के आबकारी एवं पेयजल स्वच्छता मंत्री प्रकाश पन्त ने गढ़ी कैन्ट स्थित महेन्द्रा ग्राउंड किया। अपने संबोधन में मंत्री प्रकाश पंत ने कहा कि दशैं-दीपावली का यह त्यौहार गोबर्द्धन पूजा तक चलता है। उन्होंने संस्कृति के संरक्षण को लेकर वीर गोरखा कल्याण समिति की पहल को सराहा। मंत्री पन्त ने कहा कि उत्तराखण्ड-नेपाल के बीच रोटी-बेटी का संबंध है उसे आगे बढ़ायें। विधायक मसूरी गणेश जोशी जी ने भी गोरखा समाज को बधाई दी।

सांस्कृतिक कार्यक्रमों की शुरूआत चन्द्रबनी की टीम ने गणेश वंदना के साथ की। इसके बाद सेलाकुई की टीम द्वारा सिरैमा सिरबन्दी गीत पर सुन्दर नृत्य प्रस्तुत किया गया। कुल्लू मनाली से आई टीम ने ‘मतकर सुमना सुरते गुमाना’ गीत पर नृत्य प्रस्तुत कर मेले में मौजूद सभी का मन मोह लिया। नेपाली लोक गायक यम पुन व गायिका भुमा थापा मगर की प्रस्तुतियों को भी दर्शकों ने खूब सराहा। इस दौरान गढ़वाली-कुमाऊँनी, जौनसारी, हिमाचली, हिन्दी गीतों की भी रंगारंग प्रस्तुतियां दी गई।

दो दिवसीय मेले के प्रथम दिन में ही लोगों की भारी संख्या में भीड़ देखने को मिली। लोगों ने मेले में मौजूद स्टॉलों से दीपावली के त्यौहार के लिए खरीदारी की। बच्चों में मेले में झूलों व नेपाली व्यंजनों व भारतीय व्यंजनों का लुफ्त उठाया।

वीर गोर्खा कल्याण समिति के अध्यक्ष श्रवण सिंह प्रधान ने कहा कि दो दिवसीय मेले के आयोजन का उद्देश्य गोर्खा संस्कृति को सभी लोगों से साझा करना है।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, Gorkha Dishan-Deepawali Festival, Gari Cantt, Launch

LEAVE A REPLY