Home उत्तराखंड बिरोड़ में पारंपरिक तरीके से मनाया गया रघुनाथ देवता का जागड़ा

बिरोड़ में पारंपरिक तरीके से मनाया गया रघुनाथ देवता का जागड़ा

962
0
SHARE

मसूरी। जौनपुर विकास खंड के बिरोड़ गांव में भगवान रघुनाथ का जागड़ा पारंपरिक रीति-रिवाज के साथ धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने नागराज देवता के दर्शन किए।

शनिवार को लालूर पट्टी के बिरोड़ गांव में भगवान रघुनाथ के मंदिर से देवता की डोली को पारपंरिक वाद्ययंत्रों के साथ नैनबाग स्थित यमुना नदी में स्नान के लिए ले जाया गया। जिसके बाद क्षेत्र के विभिन्न गांवों में श्रद्धालुओं ने डोली के दर्शन किए और मनोकामनाएं मांगी। देवता की डोली शाम को रघुनाथ मंदिर के प्रांगण में पहुंची। जहां देवडोली के दर्शनों के लिए हजारों श्रद्धालओं का सैलाब उमड़ पड़ा। उत्तरकाशी, डामटा, सिलवाड़, लालूर, इडवालस्यूं, नौगांव, लुदेरा, बग्लों की कांडी, नागथात, क्यारी सहित देहरादून आदि से भी बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने मसूरी पहुंचकर देवता के दर्शन किए।

मंदिर प्रांगण में देर रात तक देव डोली को नचाया गया। इस मौके पर राजपुर के विधायक खजानदास ने देवता के सम्मान में ढोल बजाया। वहीं देर रात तक सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी जारी रहा। स्थानीय लोक नृत्य की प्रस्तुतियों को खूब सराहा गया। मनोज सागर एवं पार्टी ने एक से बढ़कर एक सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दीं।

जागड़े में कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय, प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट, जिला पंचायत सदस्य अमेंद्र बिष्ट, आषुतोश कोठारी, मनोज गौड़, दर्शन लाल नौटियाल, प्रधान मंगल दास, गंभीर रावत सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

Key Words : Uttarakhand, Mussoorie, Raghunath Devta, Baroda, Devotees

LEAVE A REPLY