Home संस्कृति एवं संभ्यता पूर्णागिरी मां का सजने लगा दरबार

पूर्णागिरी मां का सजने लगा दरबार

655
0
SHARE

डीएल कॉरेसपॉन्डेंट/चम्पावत। चैत्र मास में चम्पावत जिले में आयोजित होने वाला मां पूर्णागिरी का मेला विधिवत पूजा-अर्चना और श्रद्धाभाव के साथ शुरू हो गया है। वैसे तो इस पवित्र सिद्ध शक्ति पीठ के दर्शन करने श्रद्धालु पूरे वर्ष भर आते रहते हैं, लेकिन होली के बाद यहां श्रद्धालु मां के दर्शन के लिए पहुंचने शुरू हो जाते हैं। चैत्र मास की नवरात्रि से जून तक यहां श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता है। स्थानीय प्रशासन और समाजसेवियों द्वारा इस दौरान श्रद्धालुओं को हर संभव सुविधायें उपलब्ध कराई जाती हैं।

कैसे पहुंचे :-
पूर्णागिरी आने के लिए सड़क और रेल मार्गों द्वारा पहुंचा जा सकता है। निकटतम रेलवे स्टेशन टनकपुर है। यहां से मंदिर की दूरी करीब 20 किमी है। सड़क मार्ग द्वारा ठूलीगाड़ से आगे भैरों मंदिर तक अपने वाहन से पहुंचा जा सकता है। जहां से मंदिर पहुंचने के लिए करीब 3 किमी पैदल यात्रा करनी पड़ती है। वायु मार्ग से यहां आने के लिए निकटतम हवाई अड़डा पन्तनगर है जो खटीमा नानकमत्था के रास्ते 121 किमी की दूरी पर मौजूद है।

Key Words : Uttarakhand, Champawat, Tanakpur, Purnagiri Mandir, Mela

LEAVE A REPLY