Home संस्कृति एवं संभ्यता गढ़वाली-कुमांऊनी भाषा सीखने के लिए डीपीएमआई की कार्यशाला में करिए प्रतिभाग !

गढ़वाली-कुमांऊनी भाषा सीखने के लिए डीपीएमआई की कार्यशाला में करिए प्रतिभाग !

830
0
SHARE

देहरादून। दिल्ली पैरामेडिकल एंड मैनेजमेंट (डीपीएमआई) देहरादून की ओर से स्कूलों में गर्मियों की छुट्टी के मौके पर गढ़वाली-कुमांऊनी भाषाओं की जानकारी के लिए निःशुल्क कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। यह कार्यशाला 01 जून से 10 जून, 2018 तक आयोजित की जाएगी।

डीपीएमआई द्वारा जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि कार्यशाला में गढ़वाली-कुमांऊनी भाषाओं की जानकारी के अलावा विषय विशेषज्ञों द्वारा उत्तराखंड के इतिहास के बारे में भी विस्तार से बताया जाएगा। बातचीत, पारंपरिक मुहावरों के साथ ही परंपरागत वाद्ययंत्र, मांगल गीत, लोकगीत, खानपान और पोशाक आदि के बारे में भी विस्तृत जानकारी दी जाएगी।

गढ़वाली-कुमांऊनी भाषा और संस्कृति को बढ़ावा देने के उद्देश्य से डीपीएमआई पूर्व में भी इस तरह के आयोजन करता रहा है। 01 जून से शुरू हो रही कार्यशाला में प्रतिभाग करने के इच्छुक व्यक्ति अपना पंजीकरण मो. नं. 9634860978 पर या फिर संस्थान के ई-106, नेहरू कॉलोनी स्थित ऑफिस में आकर भी करवा सकते हैं।

LEAVE A REPLY