Home शिक्षा और रोजगार सूबे के विश्वविद्यालयों को समान एक्ट के दायरे में लाने को बैठक...

सूबे के विश्वविद्यालयों को समान एक्ट के दायरे में लाने को बैठक आयोजित

520
0
SHARE

देहरादून। उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत की अध्यक्षता में बुधवार को सचिवालय में विश्वविद्यालयों के संचालन में एक समान एक्ट लाने के सम्बंध में बैठक आयोजित की गई। बैठक में प्रदेश के सभी शासकीय एवं अशासकीय विश्वविद्यालयों के कुलपतियों ने प्रतिभाग किया।

बैठक में उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि उच्च शिक्षा को गुणवत्तायुक्त बनाने तथा समस्त छात्र-छात्राओं को समान रूप से शिक्षा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से उत्तराखण्ड के विश्वविद्यालयों के लिये एक अम्ब्रेला एक्ट लाया जाना है, जिसके लिये सभी विश्वविद्यालयों से सुझाव मांगे गये हैं, ताकि सबकी सहमति से विश्वविद्यालय एक्ट तैयार किया जा सके। सरकार द्वारा इस कार्य के लिये 9 सदस्यों की समिति का गठन किया गया है, जिसमें स्ववित्तपोषित विश्वविद्यालयों एसआरएचयू के कुलपति डॉ. विजय धस्माना, श्री गुरू राम राय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. पीपी ध्यानी, आईएमएस यूनिसन विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. राजेन्द्र कुमार पाण्डेय को भी सदस्य के रूप में शामिल किया गया है।

डॉ. रावत ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा पुस्तक दान अभियान एवं नशा मुक्ति अभियान संचालित किये गये हैं। उन्होंने विश्वविद्यालयों के कुलपतियों से इन अभियानों में सहयोग की अपेक्षा की तथा विश्वविद्यालयों के अधीन छात्रावासों में नशा मुक्ति पर जागरूकता अभियान संचालित करने की अपेक्षा की।

बैठक में अपर मुख्य सचिव डॉ. रणवीर सिंह, कुलपति श्रीदेव सुमन विश्वद्यिलय डॉ.यूएस रावत, अपर सचिव डॉ. इकबाल अहमद, वीसी कुमाऊं विश्वविद्यालय प्रो. डीके नौरियाल सलाहकार रूसा प्रो. केडी पुरोहित सहित समस्त कुलपति उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY