Home उत्तराखंड चमोली जिले के प्रवासियों ने गठित की उद्यमिता कौशल एवं ग्रामोथान समिति...

चमोली जिले के प्रवासियों ने गठित की उद्यमिता कौशल एवं ग्रामोथान समिति – डीपी देवराड़ी अध्यक्ष व प्रकाश रतूड़ी सचिव मनोनीत

898
0
SHARE

देहरादून। चमोली जिले में सामाजिक, सांस्कृतिक, पर्यावरण, कौशल विकास एवं आजीविका संवर्द्धन आदि विकास कार्यों को धरातलीय स्वरूप प्रदान करने के लिए जनपद के प्रवासीजनों ने उद्यमिता कौशल एवं ग्रामोथान समिति का गठन किया है। रविवार को समिति के पदाधिकारियों का मनोयन किया गया जिसमें डीपी देवराड़ी को अध्यक्ष और प्रकाश रतूड़ी को सर्वसम्मति से सचिव का पदभार सौंपा गया।

रविवार को चमोली जिले के देहरादून में निवास कर रहे प्रवासीजनों की एक बैठक राजेश्वरीपुरम में आयोजित की गई। बैठक में चमोली जिले में विभिन्न विकास कार्यों को अमलीजामा पहनाने के लिए चर्चा की गई। इस दौरान उद्यमिता कौशल एवं ग्रामोथान समिति का गठन कर भविष्य की रणनीति बनाई गई और समिति के पदाधिकारियों का चयन किया गया। आम सहमति के उपरांत भटियाणा के डीपी देवराड़ी को समिति के अध्यक्ष और कोट के प्रकाश रतूड़ी को सचिव मनोनीत किया गया। उपाध्यक्ष पद पर कोथरा के मोहन सिंह नेगी, कोठुली के कान्ता प्रसाद सती को कोषाध्यक्ष बनाया गया। भटियाणा के प्रकाश चन्द्र देवराड़ी को संगठन मंत्री संगठन मंत्री सहित कोठुली के शिव प्रसाद सती को समिति के मीडिया प्रभारी की जिम्मेदारी सौंपी गई।

समिति के अन्य सदस्यों में केदारकोट के सुदर्शन सिंह नेगी, सुनभी से सूरज सिंह, कंचन देवी भटियाणा, रश्मी देवी भटियाणा, वासुदेव कान्ती चिरखून, रतन सिंह नेगी कोट, संगीता बिष्ट कोठुली, देवसिंह कफारतीर के अलावा आमंत्रित सदस्यों में देव सिंह और गणेश प्रसाद हाल निवासी दिल्ली को चुना गया। समिति के संरक्षक पद पर केदारकोट निवासी बलवन्त सिंह नगी और जाखपाटियू के कैप्टन नारायण सिंह नेगी को आम सहमति उपरांत मनोनीत किया गया।

समिति के सचिव प्रकाश देवराड़ी ने बताया कि चमोली जिले में आमजन की सहमति उपरांत शीघ्र ही विभिन्न विकास कार्यों के लिए समिति के माध्यम से कार्य शुरू किया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि समिति का गठन सोसाइटी एक्ट 1860 के तहत किया जाएगा।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, Chamoli, Migrants, The Entrepreneurship skill and Gramothan committee, Formed

LEAVE A REPLY