Home उत्तराखंड स्वस्थ भारत के लिए योग को करें दिनचर्या में शामिल : सीएम

स्वस्थ भारत के लिए योग को करें दिनचर्या में शामिल : सीएम

751
0
SHARE

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस (21 जून) पर योग के प्रति जन-जागरूकता के लिए गांधी पार्क से दीनदयाल उपाध्याय पार्क तक ‘‘वाॅक फाॅर योग’’ में प्रतिभाग किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि योग के माध्यम से ही सम्पूर्ण विश्व निरोग हो सकता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों से विश्व भर में 21 जून को अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाया जाता है। योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाकर ही हम स्वस्थ भारत की कल्पना कर सकते हैं। स्वस्थ भारत के लिए योग को गांव-गांव, घर-घर तक पहुंचाने की जरूरत है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि योग दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री उत्तराखण्ड पधार रहे हैं। उन्होंने लोगों से अपील की है कि योग दिवस के अवसर पर जहां कहीं भी योग कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं, सामूहिक रूप से इन योग कार्यक्रमों में प्रतिभाग करें। जो अन्य स्थानों पर जाने में असमर्थ हैं, वे घर पर ही योग अभ्यास करें। आयुष मंत्री हरक सिंह रावत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि योग दिवस के अवसर पर उत्तराखण्ड में आयोजित होने वाले कार्यक्रम से योग एवं उत्तराखण्ड दोनों को लाभ मिलेगा।

योग की जागरूकता के लिए 17 जून को डीजीपी अनिल कुमार रतूड़ी के नेतृत्व में पुलिस के अधिकारी, पुलिस मुख्यालय से घंटाघर-परेड ग्राउंड से होते हुए वापस पुलिस मुख्यालय तक ‘वाॅक फाॅर योग’ करेंगे। 18 जून को मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह के नेतृत्व में सचिवालय के अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा सचिवालय-घंटाघर-परेड ग्राउंड से होते हुए वापस सचिवालय तक ’वाॅक फाॅर योग’ किया जायेगा। जबकि 18 जून को ही अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी के नेतृत्व में सचिवालय की महिला अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा सचिवालय से जीएमवीएन होते हुए वापस सचिवालय तक ‘वाॅक फाॅर योग’ किया जायेगा। कैबिनेट मंत्री प्रकाश पंत, मदन कौशिक, यशपाल आर्य, सुबोध उनियाल, राज्य मंत्री रेखा आर्या, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने भी ‘‘वाॅक फाॅर योग’’ में प्रतिभाग किया।

योग दिवस पर बारिश हुई तो होगा ‘वर्षा योग’ :

देहरादून। बारिश होने की स्थिति में ‘वर्षा योग’ होगा। हालांकि मौसम विभाग के अनुसार बारिश के आसार कम हैं। फिर भी, प्रतिभागियों को बता दिया गया है कि वर्षा के कारण योग अभ्यास बाधित नहीं होगा। वर्षा योग से रोमांच और भी बढ़ जाएगा। सभी योग मैट के साथ शू बैग और वाटर प्रूफ मोबाइल पाउच का इंतजाम होगा।

LEAVE A REPLY