Home उत्तराखंड यमुना घाटी के खरादी में जानलेवा बनी आवाजाही

यमुना घाटी के खरादी में जानलेवा बनी आवाजाही

792
0
SHARE
सचिन रावत/बड़कोट। यमुनाघाटी के खरादी क्षेत्र में यमुना नदी पर ठकराल पट्टी के करीब एक दर्जन गांव के ग्रामीणों को बरसात के मौसम में जान जोखिम में डालकर आवाजाही करने को मजबूर होना पड़ रहा है। ग्रामीणों को यमुना नदी के पार जाने के लिए एक मात्र संसाधन ट्रॉली का सहारा लेना पड़ता है।
बताते चलें कि साल 2013 की आपदा के दौरान नदी पर बना झूला पुल बह गया था, जिसके बाद आवाजाही के लिए लोक निर्माण विभाग ने नदी पर ट्रॉली लगाकर वैकल्पिक व्यवस्था की थी, लेकिन उसके बाद विभाग लापरवाह हो गया। स्थानीय ग्रामीणों का आरोप है कि टॉली से नदी पार करना खतरे से खाली नहीं है। बरसात के मौसम में यह और भी खतरनाक हो जाता है। स्कूल जाने वाले बच्चों के लिए ट्रॉली से गुजरना बेहद खतरनाक है। ग्रामीणों ने विभाग को चेतावनी दी है कि यदि समय रहते नदी पर पुल का निर्माण नहीं किया गया तो वे आंदोलन करने को मजबूर होंगे।

Key Words : Uttarakhand, Uttarkashi, Barkot, Kahradi, Transpotation Problem

 

LEAVE A REPLY