Home सामाजिक सरोकार जेष्टवाड़ी गांव के दिपेन्द्र की शादी में शराब की जगह पिलाया जूस

जेष्टवाड़ी गांव के दिपेन्द्र की शादी में शराब की जगह पिलाया जूस

2363
0
SHARE
शांति टम्टा
उत्तरकाशी। जहां एक ओर शादी-ब्याह और अन्य सामाजिक अवसरों पर शराब का प्रचलन प्रतिष्ठा का प्रतीक बनता जा रहा है वहीं शादी में शराब की जगह बुरॉस का जूस परोसकर उत्तरकाशी के जेष्टवाड़ी गांव के एक युवक ने मिसाल कायम की है। नशे की बुराई के खात्मे को लेकर की गई  इस पहल को पूरे क्षेत्र में सराहा जा रहा है।
आज के दौर में विवाह समारोह में शराब पीना और पिलाना एक रस्म का रूप ले चुका है, ऐसे माहौल उत्तरकाशी जिले के विकासखण्ड चिन्यालीसौंड़ स्थित जेष्टवाड़ी गांव के निवासी दिपेन्द्र कोहली ने अपने विवाह समारोह में बारातियों और घरातियों को शराब न पिलाकर समाज को आईना दिखाया है।
दिपेन्द्र बताते हैं कि उन्होंने अपने शादी के कार्ड पर ‘नशे को ना, जिंदगी को हां’ लिखवाकर रिश्तेदारों और मेहमानों को पूर्व में ही शराब न परोसे जाने का संदेश दे दिया था। उनके इस संकल्प को न केवल बारातियों ने सराहा बल्कि पूरे क्षेत्र में उनकी इस पहल की प्रशंसा की जा रही है। दिपेन्द्र यह भी कहते हैं कि समाज में और विशेषकर युवा वर्ग में बढ़ती नशे की आदत के खात्मे के लिए इस तरह के प्रयास बेहद जरूरी हैं।

Uttarakhand, Uttarkashi, Jestwadi village, Alcohol, Marriage

 

LEAVE A REPLY