Home उत्तराखंड इन्वेस्टर फ्रेंडली प्रदेश बनाने को साझेदारी और सहयोग अहम् : सीएम

इन्वेस्टर फ्रेंडली प्रदेश बनाने को साझेदारी और सहयोग अहम् : सीएम

637
0
SHARE

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शुक्रवार को सीएम हाउस स्थित कैंप कार्यालय में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस से संबंधित प्रगति की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड राज्य को इन्वेस्टमेंट हेतु देश के सर्वश्रेष्ठ डेस्टिनेशन के रूप में स्थापित करना है। राज्य को अन्य राज्यों के साथ स्वस्थ प्रतिस्पर्धा करते हुए आगे निकलना है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड को सही मायने में इन्वेस्टर फ्रेंडली बनाने के लिए सभी विभागों और अन्य साझेदारों का सक्रिय सहयोग अहम् है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ईज ऑफ डूइंग बिजनेस की सफलता के लिए निवेशकों की सुविधा हेतु बनाए गए इन्वेस्टमेंट फैसिलिटेशन सेल को पूर्ण रुप से प्रभावी बनाया जाए। एक ही स्थान पर निवेशक को सभी प्रकार की सूचनाएं व आवश्यक दिशा-निर्देश और मदद प्राप्त होनी चाहिए। निवेशकों की आवश्यकता के अनुसार विविध प्रकार के कौशल विकास कार्यक्रम भी संचालित किए जाने चाहिए। जिससे उनको प्रशिक्षित मानव संसाधन मिल सके।

प्रमुख सचिव मनीषा पंवार ने ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के अंतर्गत प्रस्तावित बिजनेस रिफॉर्म एक्शन प्लान का संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि इसके अंतर्गत राज्य में व्यवसाय करने से संबंधित विभिन्न कारकों के क्रियान्वयन की स्थिति का पता करते हुए अन्य राज्यों के साथ तुलनात्मक अध्ययन कर कार्ययोजना विकसित की गई है। ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में आवेदनों के निस्तारण के लिए समय सीमा, ऑनलाइन प्रक्रिया, सेवाओं की व्यापक सूची, एकल खिड़की की उपलब्धता, सरकार के स्तर पर दी जाने वाली सुविधाएं, औद्योगिक संघों के साथ नियमित बैठक जैसे कई बिंदुओं पर विचार किया जाता है।

बैठक में सचिव वित्त अमित नेगी, सचिव राधिका झा, अपर सचिव डाॅ. पंकज कुमार पाण्डेय, एमडी सिडकुल आर.राजेश कुमार सहित शासन के वरिष्ठ अधिकारी आदि उपस्थित थे।

उत्तराखंड को हिमालयी राज्यों में प्रथम स्थान पर:
भारत सरकार के वर्ष 2016 की रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड ईज आॅफ डूइंग बिजनेस में प्रथम 10 राज्यों में शामिल था। उत्तराखण्ड लीडर श्रेणी का राज्य है। डी.आई.पी.पी. द्वारा निर्धारित 340 प्वाइंट्स में से 96.13 फीसदी बिंदुओं पर अनुपालन किया गया है। 10 सुधार क्षेत्रों में से 7 क्षेत्रों में 100 फीसदी उपलब्धि रही है। उत्तराखण्ड हिमालयी राज्यों में प्रथम स्थान पर है। इस वर्ष रैंकिंग में स्टेकहोल्डर से भी फीडबैक लिया जाएगा। जिसमें नये व्यवसायी, विद्यमान व्यवसायी, आर्किटेक्ट, विद्युत कॉन्ट्रैक्टर्स, अधिवक्ता आदि होंगे।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, CM, investor friendly stat, Involvement

 

LEAVE A REPLY