Home अपना दून इंडो-नेपाल ट्रेड फेयर एंड टूरिज्म फेस्टेवल : नेपाल के उत्पादों की हो...

इंडो-नेपाल ट्रेड फेयर एंड टूरिज्म फेस्टेवल : नेपाल के उत्पादों की हो रही जमकर खरीदारी

530
0
SHARE

देहरादून। दून के परेड ग्राउंड में आयोजित इंडो-नेपाल ट्रेड फेयर एवं टूरिज्म फेस्टेवल में भारत और नेपाल ने आपसी व्यापार को बढ़ाने के लिए लगभग 155 स्टॉल लगाये हैं। ट्रेड फेयर में रविवार को बड़ी संख्या में दूनवासी खरीदारी करने पहुंचे। नेपाल के स्टॉलों में भी खासी खरीदारी की जा रही है। नेपाल में निर्मित खूखरी, ढाका टोपी, छुरपी, पसमीना, गुदरूक, नेपाली अदरक की भी जमकर बिक्री हो रही है। दो फरवरी से शुरू हुए इण्डो-नेपाल ट्रेड फेयर एण्ड टूरिज्म फेस्टेवल का समापन 12 फरवरी को होगा।

रविवार को इण्डो-नेपाल ट्रेड फेयर एण्ड टूरिज्म फेस्टेवल के सांस्कृतिक कार्यक्रमों का शुभारंभ रविवार को कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने दीप प्रज्जवलित कर किया। सांस्कृतिक कार्यक्रमों की शुरूआत गणेश वंदना के साथ हुई। इसके बाद वीर गोर्खा कल्याण समिति की ओर से रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए गये। इस दौरान नेपाली गीतों पर कलाकारों ने शानदार प्रस्तुतियां देकर सभी का मन मोह लिया। मंच संचालन वीर गोर्खा कल्याण समिति के सचिव देबिन शाही ने किया।

महेन्द्रनगर कंचनपुर के भट्ट मेरिट काष्ठ उद्योग के मनीराज भट्ट ने बताया कि दुर्लभ विजयसाल (वानस्पतिक नाम पेट्रोकारपस मार्सूपियम) की लकड़ी औषधीय गुणों का खजाना है। इस लकड़ी के बने गिलासों को खरीदने में लोग खासी दिलचस्पी दिखा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस गिलास में पानी पीने से शरीर के कई रोग खत्म करने में चमत्कारी परिणाम देखने को मिले हैं। उन्होंने बताया कि विजयसाल की लकड़ी से बने जगों की भी खूब बिक्री हो रही है।

इस अवसर पर मेजर बीपी थापा समाजिक कार्यकता, मधू थापा, नेपाल के कंचनपुर चैम्बर ऑफ कामर्स एण्ड इंड्रस्ट्री के वरिष्ठ उपाध्यक्ष जंग बहादुर, कोषाध्यक्ष खगेश्वर प्रसाद बोरा, उपाध्यक्ष तेग सिंह कार्यकारी अधिकृत प्रेम सिंह भाट, वीर गोर्खा कल्याण समिति के अध्यक्ष श्रवण कुमार प्रधान, स्थानीय कोर्डिनेटर सुर्य बिक्रम शाही अध्यक्ष गोर्खा इन्टरनेशनल सोसियो कल्चरल फाउन्डेशन, विशाल थापा सचिव हैल्प क्रॉस, टेकू थापा, आशा थापा, रितू गुरूरंग, कमला थापा उपाध्यक्ष वीर गोरखा कल्याण समिति सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, Indo-Nepal Trade Fair and Tourism Festevl, Nepalese products

LEAVE A REPLY