Home स्वास्थ्य हीलिंग तकनीक से उपचार कराने पहुंचे सैकड़ों मरीज

हीलिंग तकनीक से उपचार कराने पहुंचे सैकड़ों मरीज

903
0
SHARE

देहरादून । आध्यात्म और योग विद्या के माध्यम से लोगों की परेशानियों और बीमारियों के इलाज में उन्हें राहत प्रदान करने की दिशा में दूनवासियों के लिए की जा रही पहल बेहद सराहनीय है। यह बात योगविद्या प्राणिक हीलिंग फाउंडेशन ऑफ तिरुपति की ओर से देहरादून के नेहरू कॉलोनी स्थित हीलिंग कैंप का शुभारंभ करते हुए विधायक एवं मेयर विनोद चमोली ने कही। शिविर के पहले दिन सैकड़ों की संख्या में पहुंचे मरीजों ने उपचार की हीलिंग प्रक्रिया का लाभ लिया।

शुक्रवार को दून की नेहरू कॉलोनी में योगविद्या प्राणिक हीलिंग फाउंडेशन ऑफ तिरुपति के तत्वावधान में निःशुल्क तीन दिवसीय हीलिंग शिविर का शुभारंभ किया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि धर्मपुर क्षेत्र के विधायक एवं मेयर विनोद चमोली ने कैंप के आयोजकों को शुभकानायें देते हुए कहा कि यह बहुत अच्छी बात है कि उत्तराखंड में इलाज की इस विधा के बारे में पहली बार देहरादून में इस तरह का शिविर आयोजित किया जा रहा है।

शिविर की समन्वयक शैल उनियाल ने बताया कि आज की भागदौड़ भरी जीवन शैली के चलते मनुष्य को कई तरह की मानसिक और शारीरिक बीमारियां अपनी चपेट में लेती जा रही हैं। उन्होंने कहा कि जिसकी सबसे बड़ी वजह मन-मस्तिक द्वारा नकारात्मक ऊर्जा का शरीर में प्रवेश करना है। मनुष्य के भीतर प्राण वायु में आने वाली रुकावट ही सभी बीमारियों की जड़ है। उन्होंने कहा कि शिविर का मुख्य उद्देश्य बीमार और परेशान लोगों को प्राणिक हीलिंग प्रक्रिया यानि प्राण ऊर्जा के माध्यम से सम्बंधित रोग के इलाज की जानकारी देकर उन्हें लाभान्वित करना है।

उन्होंने यह भी बताया कि योगविद्या प्राणिक हीलिंग फाउंडेशन ऑफ तिरुपति का उत्तर भारत में इस तरह का यह पहला निःशुल्क शिविर दून में आयोजित किया गया है। जबकि देश के अन्य कई राज्यों में इस तरह के शिविरों में शामिल होने वाले लोगों को काफी फायदा पहुंचा है और वे निरंतर हीलिंग प्रक्रिया को अपनाकर सुखमय जीवन व्यतीत कर रहे हैं। शिविर का आयोजन रविवार 9 अप्रैल तक किया जाएगा।

इस अवसर पर हीलिंग उपचारक गिरीबाला जुयाल, सत्यवती कुकरेती, प्रीति नैथानी, अंजलि उनियाल, सरिता कोठारी, शैलबाला विशनोई, कृष्णकांत लूथरा, सुनीता जोशी, कुनाल मेहता आदि ने मरीजों को मौसमी बीमारियां सहित कई बड़ी बीमारियों के उपचार के लिए प्राणिक हीलिंग दी।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, Dharampur, Patients, Healing

LEAVE A REPLY