Home उत्तराखंड दून के हिन्दू संगठनों ने रोहिंगिया मुसलमानों को शरण न देने की...

दून के हिन्दू संगठनों ने रोहिंगिया मुसलमानों को शरण न देने की मांग की

1047
0
SHARE

देहरादून। रोहिंगिया मुसलमानों को भारत में शरण देने के विरोध में हिन्दूवादी संगठनों ने राजधानी में प्रदर्शन करते हुए जुलूस निकालकर जिलाधिकारी कार्यालय के जरिये राष्ट्रपति को ज्ञापन प्रेषित किया।

शुक्रवार को हिन्दूवादी संगठनों और बजरंग दल के कार्यकर्ता बडी संख्या में गांधी पार्क में इकटठा हुए जहां उन्होंने रोहिंगिया मुसलमानों को भारत में शरण देने के विरोध में प्रदर्शन किया। इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि रोहिंगिया मुसलमान आतंकी की श्रेणी में आते है, जिन्होंने म्यांमार में निर्दोष लोगोें का खून बहाया और वहां के शांति प्रिय बौद्ध धर्म के लोगो पर अत्याचार किये। इसी के चलते रोहिंगिया मुसलमानों को म्यांमार से खदेड़ा गया। उन्होंने कहा कि रोहिंगिया मुसलमान बंगलादेश के प्रवासी हैं और म्यांमार में अवैध रूप से रह रहे थे। उनके पास म्यांमार की नागरिकता भी नहीं है। वक्ताओं ने कहा कि रोहिंगिया मुसलमान भारत में शरण मांग रहे है, लेकिन उनकी करतूतों को देखते हुए उन्हें किसी भी हाल में देश में भारत में शरण ना दी जाए। हिन्दू संगठनों से जुड़े सभी कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे और उन्होंने जिलाधिकारी के जरिये राष्ट्रपति को ज्ञापन प्रेषित किया, जिसमें रोहिंगिया मुसलमानो को भारत में कोई शरण नहीं दिये जाने की मांग की गई।

ज्ञापन देने वालों में विहिप महानगर कोषाध्यक्ष श्याम शर्मा, विभाग संयोजक विकास वर्मा महानगर गौ सेवा प्रमुख संजीव बालियान दुर्गा वाहिनी गढवाल संभाग संयोजिका भावना शर्मा, कुलदीप स्वेडिया, शुभम प्रजापति, विजेन्द्र नेगी, उमेश चानना, महेन्द्र नेगी, समय शर्मा, मल बिजल्वाण, मुकेश आंन्नद, गोली चौहान, नरेश, राजेन्द्र राजपूत, सुरेन्द्र नौटियाल, मनोज तोमर रोहित मोर्या, नवीन, संदीप वाधवा, विजय गुप्ता, महानगर सह संयोजक आशु चैहान सागर, ओम उपाध्याय, शंकर आनंद, नरेन्द्र गोड़, दर्शन लाल आदि ने शामिल थे।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, Rohingya Muslims, Hindu organizations, Demand, Shelter

LEAVE A REPLY