Home उत्तराखंड घाट भाजपा मण्डल कार्यकारिणी का सामूहिक इस्तीफा – त्रिवेन्द्र सरकार पर विकास...

घाट भाजपा मण्डल कार्यकारिणी का सामूहिक इस्तीफा – त्रिवेन्द्र सरकार पर विकास कार्यां की अनदेखी का लगाया आरोप

735
0
SHARE

     घनश्याम मैंदोली

चमोली। चमोली जिले के विकासखण्ड ब्लॉक घाट की भाजपा मण्डल कार्यकारिणी ने आज अपने पदों से सामूहिक इस्तीफा दे दिया है। मण्डल पदाधिकारियों ने भाजपा संगठन और सूबे की त्रिवेन्द्र सरकार पर क्षेत्र की अनदेखी और विकास कार्यों में भेदभाव का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि सरकार चेताने के लिए यह कदम उठाना मजबूरी बन गया था।

भाजपा मण्डल कार्यकारिणी घाट के पदाधिकारियों ने आरोप लगाया है कि सूबे की सरकार की ओर से विकासखण्ड घाट में विकास योजनाओं को लेकर घोर अनदेखी की जा रही है। साथ ही प्रदेश व जिला स्तर पर पदाधिकारियों को तबज्जो नहीं दी जा ही है। दरअसल, मण्डल कार्यकारिणी पदाधिकारियों को आज तक पार्टी स्तर की बैठकों में प्रतिभाग करने का मौका ही नहीं दिया गया है। क्षेत्र की समस्याओं का निराकरण न हो पाना कार्यकारिणी के पदाधिकारियों की नाराजगी की मुख्य वजह बताई जा रही है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मण्डल पदाधिकारियों का कहना है कि मुख्यमंत्री ने विगत माह मुख्यालय गोपेश्वर में आयोजित बहुउद्देश्यीय शिविर के दौरान नन्दप्रयाग-घाट मोटर मार्ग का चौड़ीकरण एवं डामरीकरण शीघ्र करवाये जाने की घोषणा की थी। मगर इस मुद्दे पर आज तक कोई भी कार्यवाही नहीं की गई है। घाट तहसील में उप जिलाधिकारी व अन्य प्रशासनिक अफसरों की नियुक्ति पदाधिकारियों द्वारा मांग किए जाने के बावजूद न हो पाना नाराजगी की एक अन्य वजह बताई जा रही है।

मण्डल कार्यकारिणी के पदाधिकारियों ने थराली विधायक की कार्यशैली पर भी सवाल खड़े किए हैं। उनका कहना है कि जिले के लिए आवंटित विकास कोष से घाट क्षेत्र की योजनाओं को तवज्जो नहीं दी जा रही है।

त्यागपत्र देने वालों में मण्डल अध्यक्ष दिलवर सिंह, महामंत्री राकेश मैंदोली, उपाध्यक्ष महेन्द्र सिंह रावत, देवकी देवी, खिलाफ सिंह नेगी, अध्यक्ष महिला मोर्चा संध्या देवराड़ी, महामंत्री पवित्र देवी, गीता देवी, जिला संयोजक गब्बर सिंह नेगी, विधायक प्रतिनिधि भागवत सिंह सहित भाजपा के कई कार्यकर्ता शामिल हैं।

LEAVE A REPLY