Home उत्तराखंड आपदा पीड़ितों को अतरिक्त मुआवजा : सीएम की सोच मानवीय संवेदना का...

आपदा पीड़ितों को अतरिक्त मुआवजा : सीएम की सोच मानवीय संवेदना का प्रमाण – मर्तोलिया

863
0
SHARE

मुनस्यारी/पिथौरागढ़। प्रदेश में प्राकृतिक आपदा से क्षतिग्रस्त दुकानों, व्यावसायिक प्रतिष्ठानों एवं आवासीय भवनों को पूर्ण रूप से क्षति होने पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत द्वारा एक लाख रुपये का अतिरिक्त मुआवजा दिए जाने के निर्देश को राज्य भर में सराहा जा रहा है। मुनस्यारी में स्थानीय लोगों ने मुख्यमंत्री का विशेष आभार जताया है।

भाजपा के मुख्य मीडिया प्रभारी जगत मर्तोलिया ने कहा है कि मुख्यमंत्री ने अपने राहत कोष से प्राकृतिक आपदा के दौरान पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त भवन स्वामियों के लिए एक लाख रुपये की अतरिक्त आर्थिक मदद देने का निर्णय लेकर बेहद प्रशंसनीय कार्य किया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की यह सोच उनकी मानवीय संवेदना को दर्शाने वाली है। वर्तमान में आपदा के दौरान भवन की पूर्ण क्षति होने पर पीड़ित को एक लाख 19 हजार की आर्थिक सहायता देने का प्राविधान है। मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद अब प्रभावित को एक लाख अतरिक्त मुआवजा प्रदान किया जाएगा।

मर्तोलिया ने बताया कि बीती 28 जुलाई को प्रदेश भाजपा के एक डेलिगेशन ने मुख्यमंत्री के सम्मुख आपदा प्रभावितों के मसले को उठाया था, जिस पर त्वरित निर्णय लेते हुए मुख्यमंत्री ने अपने राहत कोष से पूर्ण क्षतिग्रस्त भवनों एवं व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के लिए एक लाख रुपये अतरिक्त आर्थिक मदद के रूप में दिए जाने के निर्देश जारी कर दिए। साथ ही सभी जिलाधिकारियों को पूर्ण क्षतिग्रस्त भवनों का ब्यौरा उपलब्ध करवाने के लिए कहा गया है। उन्होंने कहा कि राज्य के आपदा पीड़ित पोस्टकार्ड भेजकर मुख्यमंत्री का आभार जताएंगे।

LEAVE A REPLY