Home सामाजिक सरोकार पर्यावरण संरक्षण शिविर में कर्तव्य पालन का लिया संकल्प

पर्यावरण संरक्षण शिविर में कर्तव्य पालन का लिया संकल्प

110
0
SHARE

देहरादून /डीबीएल संवाददाता। पाॅलीथिन का इस्तेमाल न करने और कूड़े कचरे के सही तरीके से निस्तारण को लेकर नत्थनपुर क्षेत्र की महिलाओं ने पर्यावरण संरक्षण और साफसफाई अभियान को सफल बनाने का संकल्प लिया। कट्स इंटरनेशनल की पहल पर ग्रीन एक्शन वीक के तहत अभिव्यक्ति सोसाइटी द्वारा आयोजित जागरूकता शिविर में महिलाओं ने पर्यावरण को बचाने के बारे में अपने विचार भी साझा किए।

बुधवार को रायपुर विकासखण्ड के लोवर नत्थनपुर में राजराजेश्वरी विहार स्थित शिव मंदिर प्रांगण में क्षेत्र की महिलाओं के साथ पर्यावरण में हो रहे बदलावों के बारे चर्चा करते हुए विषय विशेषज्ञ दामिनी ममगाईं ने कहा कि हमारे समाज में तेजी से बढ़ती बीमारियां इस बात का संकेत हैं कि हमें समय रहते अपनी आदतों को बदलना होगा। उन्होंने कहा कि समाज के सभी लोगों की हिस्सेदारी से ही हम पर्यावरण संरक्षण की मुहिम को अंजाम तक ले जा सकते हैं।

गीताजंली ढौंढियाल ने अपनी बात रखते हुए कहा कि अपने पर्यावरण को स्वच्छ रखना हम सभी का कर्तव्य है जिसकी शुरूआत अपने घर से खासतौर पर बच्चों को जागरूक कर इस कार्य को गति प्रदान की जा सकती है।

सुचित्रा कण्डवाल ने कहा कि हम अपने घरों में उपयोग में न आने वाली वस्तुओं को कचरे में फेंक देते हैं जबकि इन वस्तुओं को जरूरतमंदों को देकर हम पर्यावरण व स्वच्छता अभियान में सहयोग कर सकते हैं।

पुष्पा भाकूनी ने सरकार और गैरसरकारी संगठनों द्वारा युद्ध स्तर पर पर्यावरण संरक्षण की मुहिम को सराहनीय बताया। उन्होंने कहा कि यह खेद का विषय है कि कुछ लोग अपने घर के कचरे को चोरी छुपे सार्वजनिक स्थानों या नाले खालों में फेंक देते हैं जिस पर कड़ाई से रोक लगाये जाने की जरूरत है।

शिविर के समापन पर महिलाओं ने कूड़े कचरे के सही तरीके से निस्तारण करने और पर्यावरण संरक्षण की दिशा में जागरूकता के प्रचार में शामिल होने की शपथ भी ली।

शिविर में शकुन्तला गौड़, पुष्पा पुंडीर, सुषमा देवी, मीना नेगी, सुभागा राणा, पिंकी पंवार, रोमा पंडित, नीरा, सम्पत्ती, दीपा, आशा, दीपा डिमरी, राजरानी नेगी आदि मौजूद रहीं।

LEAVE A REPLY