Home अपना दून गुरु महाराज के जयकारों से गूंजा दून

गुरु महाराज के जयकारों से गूंजा दून

250
0
SHARE

90 फीट ऊंचे नए झण्डे जी को कंधों पर उठाकर मंगलवार को संगत दून के श्री दरबार साहिब पहुंची

देहरादून। श्री गुरु राम राय जी महाराज के जयकारों के बीच 90 फीट ऊंचे नए झण्डे जी को अपने कंधों पर उठाकर मंगलवार को संगत श्री दरबार साहिब पहुंची। जिन रास्तों से संगत गुजरी उन रास्तों पर दूनवासी श्रद्धाभाव के साथ स्वागत के लिए पुष्प लिए खड़े रहे। हज़ारों दूनवासी सुबह से ही इस अद्भुत बेला का साक्षी बनने के लिए पलके पावड़े बिछाए इंतजार करते रहे। जहां-जहां से संगत नए झण्डे जी (ध्वज दण्ड) को लेकर गुजरी, वहां पर दूनवासियों ने पुष्पवर्षा के साथ संगत का ज़ोरदार स्वागत किया। काबिलेगौर है कि साल के पेड की लकड़ी को नए झण्डे जी के लिए तैयार किया गया है। पिछले करीब 2 महीने से श्री झण्डे जी को तैयार करने में कई कारीगर लगे हुए थे।

ऐतिहासिक श्री झण्डे जी मेले की तैयारियों के मद्देनजर श्री दरबार साहिब में संगतें के पहुंचने का क्रम तेज़ हो गया है। इस वर्ष नए श्री झण्डे जी चढ़ाए जाएंगे, इस बार 6 साल बाद यह सुअवसर आया है जब पुराने झण्डे जी को बदलकर नए झण्डे जी ध्वज दण्ड को चढ़ाया जाएगा। मंगलवार सुबह से ही श्री दरबार साहिब परिसर में विशेष चहल पहल शुरू हो गई थी। पंजाब, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, हिमाचल उत्तराखण्ड सहित आसपास के राज्यों से हज़ारों की संख्या में संगत सोमवार शाम को ही श्री दरबार साहिब पहुंच गई थी।

श्री देवेन्द्र दास जी महाराज ने कहा कि श्री झण्डा मेला प्रेम, स्नेह सद्भाव, भाईचारा, मानवता, श्रद्धाभाव व आस्था से ओतप्रोत मेला है। इस मेले में सभी धर्मों से जुड़े लोग श्री गुरू महाराज का आशीर्वाद प्राप्त करने आते हैं। हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी श्री झण्डे जी मेले को पूरी आस्था व श्रद्धाभाव के साथ मनाया जाएगा।

17 मार्च से शुरू होगा झण्डा मेला : –

17 मार्च को एतिहासिक श्री झण्डे जी का आरोहण होगा। इसी के साथ श्री झण्डे जी मेले का विधिवत शुभारंभ हो जाएगा। श्री दरबार साहिब के सज्जादानशीन श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी महाराज की अगुआई में 17 मार्च शुक्रवार को 90 फीट ऊंचे झण्डे जी का अरोहण किया जाएगा। श्री दरबार साहिब प्रबन्धन का अनुमान है कि इस पावन बेला का साक्षी बनने के लिए इस साल करीब 10 लाख श्रद्धालु श्री दरबार साहिब पहुंचने वाले हैं।

Uttarakhand, Dehradun, Jhande Ka Mela, Flag, Spirituality, Devotees

LEAVE A REPLY