Home उत्तराखंड अध्यक्ष विसेप्रा चमोली ने किया आपदा पीड़ित गांवों का दौरा – हर...

अध्यक्ष विसेप्रा चमोली ने किया आपदा पीड़ित गांवों का दौरा – हर संभव मदद का दिलाया भरोसा

913
0
SHARE

 

       

घनश्याम मैंदोली
घाट/चमोली। विधिक सेवा प्राधिकरण चमोली के अध्यक्ष जिला न्यायाधीश न्यायमूर्ति प्रदीप पन्त ने चमोली जिले में बादल फटने की घटना से प्रभावित गांवों का दौरा कर पीड़ितों को हर सम्भव मदद का भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा कि पराविधिक कार्यकर्ता पीड़ितों के पास जाकर आपदा के दौरान नष्ट हो चुके महत्वपूर्ण दस्तावेजों को पुनः बनवाने में सहयोग करेंगे।

रविवार को जिला न्यायाधीश एवं विधिक सेवा प्राधिकरण चमोली के अध्यक्ष न्यायमूर्ति प्रदीप पन्त एवं जिले के विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव रवि प्रकाश शुक्ला ने बीते दिनों बादल फटने की घटना से प्रभावित हुए मोख बगड़, धुरमा, कुरुड़ गांवों में पहुंचकर ग्रामीणों को ढाढस बंधाया। वार्ता के दौरान पीड़ितों ने उनके समक्ष अपनी परेशानियों को रखा।

ग्रामीणों का कहना था कि आपदा के नाम पर उनको दी जा रही आर्थिक मदद बेहद कम है। उनका कहना था कि बादल फटने के कारण आए सैलाब में उनका सब कुछ बह गया है। कुछ ग्रामीणों ने विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष को बताया कि मुआवजा राशि वितरण का आधार भवन को माना जा रहा है। जबकि एक भवन में दो से तीन परिवार तक रह रहे थे।

न्यायमूर्ति प्रदीप पन्त ने आपदा पीड़ितों से वार्ता के दौरान उनकी मांगों और परेशानियों पर शीघ्र शासन-प्रशासन स्तर से कार्यवाही का आश्वासन दिया।

भ्रमण के दौरान पूर्व क्षेपंस मोख शिव लाल स्नेही, अध्यक्ष साधन सहकारी समिति घाट अव्बल सिंह नेगी, पराविधिक टीम के सदस्य मथुरा प्रसाद त्रिपाठी, सुखवीर सिंह रौतेला, चक्रधर प्रसाद पुरोहित, दीपा सती, संगीता रौतेला, ममता पुरोहित, देवेश्वरी देवी, पुष्पा देवी आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY