Home उत्तराखंड आईसीएफएआई की पहल-नेटवर्किंग एवं छात्रों के बेहतर प्लेसमेंट को किया मंथन

आईसीएफएआई की पहल-नेटवर्किंग एवं छात्रों के बेहतर प्लेसमेंट को किया मंथन

275
0
SHARE

देहरादून। आईसीएफएआई यूनिवर्सिटी देहरादून और आईसीएफएआई बिजनेस स्कूल (आईबीएस) द्वारा एक प्रबंधन विकास कार्यक्रम (एमडीपी) और प्रशिक्षण और नियुक्ति अधिकारी (टीपीओ) बैठक आयोजित की गई। बैठक में ग्राफिक ऐरा यूनिवर्सिटी, डीआईटी, डीएवी पीजी कॉलेज, डीबीएस पीजी कॉलेज, श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय, उत्तराखंड तकनीकी विश्वविद्यालय, डीबीआईटी, बीएफआईटी, टीएचडीसी इंस्टीट्यूट ऑफ हाइड्रो पावर इंजीनियरिंग एवं प्रौद्योगिकी, सीओईआर जैसे उत्तराखंड राज्य के देहरादून, रुड़की और टिहरी जिलों के 18 कॉलेजों और यूनिवर्सिटी के प्रतिनिधियों ने प्रतिभाग किया।

राजधानी देहरादून में सोमवार को आईबीएस के तत्वावधान में आयोजित बैठक में प्रशिक्षण और नियुक्ति अधिकारियों और प्रबंधकों के नेटवर्क को मजबूत करने के लिए टीपीओ बैठक आयोजित की गई। इस दौरान विषय विशेषज्ञों ने बताया कि इस पहल के माध्यम से छात्रों को बेहतर प्लेसमेंट अवसर मिल सकते हैं। बैठक में नेटवर्किंग कौशल, कॉर्पोरेट के भर्ती प्रवृत्तियों में परिवर्तन और प्रशिक्षण और नियुक्ति चुनौतियों पर विस्तृत चर्चा की गई।

आईबीएस द्वारा इस टीपीओ बैठक में आईसीएफएआई यूनिवर्सिटी, देहरादून ने एक प्रबंधन विकास कार्यक्रम (एमडीपी) आयोजित किया। इस एमडीपी का उद्देश्य प्रतिभागियों की नेटवर्किंग कैशल और निर्णय लेने की क्षमताओं को विकसित करना था। एमडीपी ने स्वयं को प्रबंधित करने, लोगों के प्रबंधन एव कार्य प्रबंधन पर भी ध्यान केंद्रित किया क्योंकि ये सभी पहलू दिन-प्रतिदिन कार्यों में हमारी दक्षता निर्धारित करते हैं। नेटवर्किंग से जुडे किसी भी कार्य के दौरान इन तीनों पहलुओं के सुधार से व्यक्तियों और कॉर्पोरेट के साथ बेहतर नेटवर्क भी स्थापित होता है इसलिए इन तीनों को प्रशिक्षण और नियुक्ति वर्टिकल में सबसे महत्वपूर्ण पहलू माना जाता है । कोई भी प्रशिक्षण और नियुक्ति अधिकारी या प्रबंधक अपने कॉर्पोरेट नेटवर्क को इन कौशल के माध्यम से विकसित और मजबूत कर सकता है जो उन्हें छात्रों को बेहतर प्लेसमेंट प्रदान करने में मदद करेगा।

एमडीपी और टीपीओ बैठक के दौरान प्रमुख वक्ताओं आईबीएस गुड़गांव की डॉ तवलीन कौर और प्रोफेसर संजीव मालविया जो आईबीएस देहरादून में प्रशिक्षण और नियुक्ति के संकाय समन्वयक ने अपने विचार साझा किए। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि, आईसीएफएआई यूनिवर्सिटी देहरादून के प्रो-कुलगुरू, और आईबीएस देहरादून के डीन डॉ मुड्डू विनय ने कहा, ’आईसीएफएआई यूनिवर्सिटी देहरादून समय – समय पर इन प्रबंधन विकास कार्यक्रमों (एमडीपी) को आयोजित करता है जो इसमें प्रतिभाग करने वाले मैनेजर्स के सम्पूर्ण व्यक्तित्व विकास के लिए बेहद अहम् हैं। मानव गतिविधि के किसी भी क्षेत्र में ज्ञान आधार का विस्तार बेहतर परिणाम ला सकता है। प्रबंधन विकास कार्यक्रम (एमडीपी) प्रशिक्षण और नियुक्ति अधिकारियों और प्रबंधकों को कॉर्पोरेट और अन्य प्रबंधकों के साथ अपने नेटवर्क को मजबूत करने में मदद करेगा। प्रबंधन विकास कार्यक्रम में प्रतिभाग करने वाले प्रबंधकों को एमडीपी की इस पहल से हासिल कौशल छात्रों के भविष्य कि दिशा निर्धारित करने में एवं छात्रां को संस्थानों से बेहतर प्लेसमेंट अवसरों का लाभ पाने में मदद करेगा।

आईसीएफएआई विश्वविद्यालय, देहरादून और आईबीएस के संयुक्त प्रयासों से आयोजित कार्यक्रम का सफल आयोजन सभी प्रतिभागियों को दिग्विजय सिंह द्वारा धन्यवाद ज्ञापन के साथ हुआ। संस्थान के तनुज जेटली और दिग्विजय सिंह ने टीपीओ बैठक आयोजित करने में सराहनीय भूमिका निभाई।

LEAVE A REPLY