Home शिक्षा और रोजगार त्यूनी डिग्री काॅलेज में धरने पर बैठे छात्रों की मांगों पर भी...

त्यूनी डिग्री काॅलेज में धरने पर बैठे छात्रों की मांगों पर भी गौर फरमाइये सरकार !

316
0
SHARE
सिंचाई विभाग के भवन से संचालित हो रहा त्यूनी डिग्री कालेज, चार दिनों से शिक्षकों की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे छात्र :

त्यूनी। शिक्षा के प्रति सरकार कितनी गंभीर है इसका अंदाजा त्यूनी डिग्री कालेज की हालत देख लगा सकते हैं। न शिक्षक न अपना भवन और न ही एक कक्षा से आगे बढ़ पाया है। डिग्री कालेज के छात्रा छात्राएं प्रवक्ताओं व प्राचार्य की नियुक्ति की मांग को लेकर आंदोलनरत हैं, लेकिन शासन प्रशासन मामले से अनजान बना हुआ है। चार दिनों से काॅलेज में ताला लटका पड़ा है। जिसके चलते छात्रों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। छात्रों ने चेतावनी दी कि जब तक उनकी मांगों को पूरा नहीं किया जाता उनका आंदोलन जारी रहेगा।

छात्र संघ अध्यक्ष सोनिया का कहना है कि महाविद्यालय में कला संकाय, विज्ञान व वाणिज्य संकाय की कक्षाएं शिक्षकों के न होने से संचालित नहीं हो पा रही हैं। काॅलेज में प्राचार्य, प्रोफेसर व असिटेंट प्रोफेसर के पद स्वीकृत हैं लेकिन शासन प्रशासन की अनदेखी के चलते त्यूनी डिग्री काॅलेज का संचालन दो सालों से सिर्फ तीन प्राध्यापकों के भरोसे चल रहा है। उन्होंने कहा कि काॅलेज के छात्र शिक्षकों की निुयक्ति की मांग को लेकर बीते चार दिनों से धरने पर बैठे ह,ैं लेकिन शासन-प्रशासन आंखें मूंदे बैठा है।

सोनिया ने कहा कि उच्च शिक्षा पाने का सपना संजोये ग्रामीण छात्रों का भविष्य चैपट हो रहा है बिना अध्यापकों के पढ़ाई कैसे होगी। उन्होंने कहा कि इस सम्बंध में कई बार काॅलेज प्रशासन के सम्मुख मांग उठाई गई, लेकिन आज तक समस्या का समाधन नहीं किया गया। उन्होंने यह भी कहा कि शिक्षा की चैपट व्यवस्था के चलते क्षेत्र के छात्र शिक्षा के लिए पलायन करने को मजबूर हैं। वहीं मामले में उच्च शिक्षा निदेशक डा. बीसी मलकानी का कहना है कि काॅलेज में दशहरे के बाद वैकल्पिक व्यवस्था कर दी जाएगी। उनका कहना है कि राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा प्रवक्ताओं की भर्ती की जानी है, जिसके तहत त्यूनी महाविद्यालय को प्राथमिकता दी जाएगी।

धरना देने वालों में जयदीप, विशाल, कुंदन सिंह, प्रिया ठाकुर, संगीता पांडेय, रंजना ठाकुर, प्रियंका, शिवानी चैहान, पूनम, नीरू, विनित, मोनिका, जयेंद्र शाह, अंबिका आदि मौजूद रहे।

Key Words : Uttarakhand, Tyuni, Degree College, Students, Demands

LEAVE A REPLY