Home उत्तराखंड राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजकर रोहिंगिया मुस्लिमों की हिफाजत की उठाई मांग

राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजकर रोहिंगिया मुस्लिमों की हिफाजत की उठाई मांग

650
0
SHARE
मुस्लिम समाज के एक प्रतिनिधिमंडल ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन :

देहरादून। मियांमार में रोहिंगिया मुस्लिम लोगों पर हो रहे अत्याचारों के खिलाफ देहरादून के मुस्लिम समाज के सैकड़ों लोगों ने महामहिम राष्ट्रपति के नाम जिलाधिकारी को एक ज्ञापन सौंपा, जिसमें मियांमार के हालातों पर कार्यवाही की मांग की गई है।

बुधवार को मुस्लिम समाज के सैकड़ों लोगों ने जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचकर मियांमार में रोहिंगिया मुस्लिम लोगों पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ अपनी नाराजगी जताई। इस दौरान मुस्लिम समाज के एक प्रतिनिधिमंडल ने अपनी मांगों को लेकर राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा।

ज्ञापन में कहा गया है कि मियांमार, बर्मा में तकरीबन छह सौ साल से रह रहे रोहिंगिया मुस्लिम कौम पर वहां की फौज और भिक्षओं के जरिए जुल्म और कत्लेआम किया जा रहा है, दून का मुस्लिम समाज इस कृत की घोर निंदा करता है।

ज्ञापन में राष्ट्रपति से मांग की गई है कि हमारा देश मियांमार की सरकार पर मामले में दबाव बनाये कि वह फौरन इस जुल्म को बंद करे। साथ ही मामले से संयुक्त राष्ट्र को अवगत कराकर शांति सेना के जरिए रोहिंगिया मुस्लिम लोगों की हिफाजत की जाए। ज्ञापन में यह भी मांग की गई कि अपनी जान की हिफाजत की खातिर जो भी रोहिंगिया मुस्लिम भारत में शरण लेने आए हैं इंसानियत के नाते उनको मियांमार में हालत सुधरने तक पनाह दी जाए।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, President, Memorandum, Protection of Rohingya Muslims

LEAVE A REPLY