Home उत्तराखंड स्यौंणा गांव में सड़क और झूला पुल निर्माण की गुहार

स्यौंणा गांव में सड़क और झूला पुल निर्माण की गुहार

585
0
SHARE

उत्तरकाशी। ग्राम पंचायत सिरोर के राजस्व गांव स्यौंणा के ग्रामीण बरसों से बुनियादी सुविधाओं को तरस रहे हैं। गांव में सड़क नहीं होने से ग्रामीण जान जोखिम में डालकर भागीरथी नदी किनारे और ऊंचे पहाड़ों से आवागमन करने को मजबूर हैं। ग्रामीणों का कहना है कि सबसे ज्यादा परेशानी उन्हें अपने नौनिहालों को स्कूल भेजने को लेकर होती है। ग्रामीणों ने प्रशासन से गांव में सड़क और झूला पुल निर्माण की गुहार लगाई है।

स्यौंणा गांव में करीब तीस परिवार रहते हैं। ग्रामीणों का कहना है कि 1970 से गांव में अभी तक सड़क नहीं बनी है। बच्चों को जानजोखिम में डालकर आठ किमी दूर स्कूल जाना पड़ रहा है। भागीरथी का जलस्तर कम होने के दौरान उन्हें नदी किनारे करीब दो किमी शॉर्टकट का रास्ता अपनाना पड़ता है। गांव में सड़क सुविधा नहीं होने से गांव के परिवारो ने पलायन कर दिया है। गांव से हो रहे पलायन को रोकने के लिए ग्रामीणों ने जिला प्रशासन से गंगोरी से स्यौंणा गांव तक झूलापुल और सड़क निर्माण की मांग की है।

मांग करते वाले ग्रामीणों बृजमोहन, कुशलाप्रसाद उनियाल, राजेश, बुद्धि चैहान, जगदीश पोखरियाल, संगीता, विमला, भरोसी, बसंती देवी, रोशनी देवी, मांडवी देवी, बिजला, विनीता, सुषमा, शांति देवी, सुशीला देवी आदि शामिल हैं।

LEAVE A REPLY