Home उत्तराखंड सीएम आवास कूच पर निकले ग्राम प्रधानों को पुलिस ने रोका

सीएम आवास कूच पर निकले ग्राम प्रधानों को पुलिस ने रोका

1364
0
SHARE

देहरादून। ग्राम प्रधान संगठन ने अपनी मांगों को लेकर प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए मुख्यमंत्री आवास कूच कर प्रदर्शन किया। पुलिस ने ग्राम प्रधानों के जुलूस को बैरीकेडिंग लगाकर बीच में ही रोक दिया जिसके चलते ग्राम प्रधान सीएम आवास नहीं पहुंच पाए और वहीं धरने पर बैठ गए।

मंगलवार को ग्राम प्रधानों ने परेड ग्राउंड स्थित धरना स्थल से संगठन के प्रदेश अध्यक्ष गिरवीर परमार के नेतृत्व में जुलूस निकालकर मुख्यमंत्री आवास के लिए कूच किया। पुलिस ने जुलूस को हाथीबड़कला पुलिस चैकी के पास बैरीकेडिंग लगाकर रोक दिया। रोके जाने पर ग्राम प्रधान वहीं पर धरने पर बैठे और सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। रोके जाने के दौरान प्रधानों की पुलिस से तीखी नोंकझोंक भी हुई। ग्राम प्रधानों ने आगे बढ़ने का भरसक प्रयास किया लेकिन पुलिस ने उन्हें कामयाब नहीं होने दिया। प्रधान संगठन की मांगें हैं कि 14वें वित्त की धनराशि में की गई कटौती को तत्काल प्रभाव से वापस लिया जाना चाहिए। पंचायतीराज एक्ट 2016 को तत्काल प्रभाव से लागू किया जाये और 73वें एवं 74वें संविधान संशोधन के तहत 29 विभाग पंचायतों के अंतर्गत करने की पुरानी व्यवस्था को यथावत रखा जाये।

प्रधान संगठन ने आरोप लगाया है कि सूबे की सरकार जन विरोधी निर्णय ले रही है, जिसका पुरजोर विरोध किया जायेगा। ग्राम प्रधानों को सम्मानजनक मानदेय दिया जाना चाहिए ओर नगर पालिकाओं व नगर निगमों में पंचायतों को शामिल करने का पुरजोर तरीके से विरोध किया जायेगा।

देहरादून के कालसी ब्लाॅक स्थित ग्राम हरिपुर की प्रधान रेखा चैधरी ने कहा कि बेहद दुःख का विषय है कि जनता के न चाहने पर भी सरकार गांवों को खत्म करने की जिद पर अड़ी है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा जब तक सरकार अपने निर्णयों को वापस नहीं लेती है तब तक प्रदेश भर में आंदोलन चलते रहेंगें।

नैनीताल के ग्राम प्रधान संगठन के जिलाध्यक्ष कुंदन सिंह बोहरा ने कहा कि अगर सरकार नहीं चेती तो आंदोलन को उग्र किया जायेगा।

प्रधानों द्वारा प्रशासनिक अधिकारी के जरिये मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किया गया और जल्द ही मांगों को हल करने का आग्रह किया। विरोध-प्रदर्शन में प्रदेश महामंत्री रितेश जोशी, कुंदन सिंह बोहरा, प्रवीन चैहान, राजीव चैधरी, मुस्कान, निर्भय सिंह, प्रवीन रमोला, वासुदेव भट्ट, महावीर पंवार, धनराज बंगारी, नरेन्द्र रावत, नारायण सिंह, सतीश जोशी, माधो सिंह चमोली, रोशनी चमोली, सीमा देवी, प्रदीप भटट, राजकुमार त्यागी आदि शामिल थे।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, CM Awas, Pradhan, Dimands, Police

LEAVE A REPLY