Home उत्तराखंड आश्वासन के बाद काम पर लौटे पालिका के सफाई, दैनिक व संविदा...

आश्वासन के बाद काम पर लौटे पालिका के सफाई, दैनिक व संविदा कर्मचारी

453
0
SHARE

बड़कोट/डीबीएल संवाददाता। वेतन सहित अपनी 10 सूत्रीय मांगों को लेकर हड़ताल पर गए बड़कोट नगर पालिका के सफाई, दैनिक व संविदा कर्मियों की हड़ताल शनिवार शाम को समाप्त हो गई है। पालिका कर्मियों की हड़ताल के दूसरे दिन नगर पालिका अध्यक्ष अनुपमा रावत ने हड़ताली कर्मचारियों से वार्ता की और उनकी मांगों पर बिंदुवार बैठक में चर्चा हुई तथा मांगों को पूरा करने पर सहमति बनी। जिस पर सभी की सहमति के बाद कर्मचारियों ने हड़ताल समाप्त कर ली और सभी अपने अपने काम पर लौट गए।बीते चार महीने से वेतन नहीं मिलने से नाराज एवं अपनी नियमितीकरण आदि 10 सूत्रीय मांगों को लेकर बड़कोट नगर पालिका के सफाई कर्मचारी तथा सभी दैनिक व संविदा कर्मचारी शुक्रवार को अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए थे। कर्मचारियों के हड़ताल पर चले जाने से नगर पालिका के सभी कार्य बाधित होने के साथ ही सफाई व्यवस्था चरमरा गई थी। हड़ताल पर गए कर्मचारियों ने मांग थी कि उन्हें बीते चार महीने का रुका हुआ वेतन शीघ्र दिया जाए। नगर पालिका परिषद बड़कोट के विस्तारीकरण के अनुरूप पर्यावरण मित्रों की नियुक्ति की जाय, दैनिक एवं संविदा कर्मचारियों का नियमितीकरण किया जाय, पर्यावरण व संविदा कर्मचारियों को बोनस दिये जाने की व्यवस्था की जाय और दैनिक व संविदा कर्मियों का इपीएफ कटौती भी की जाय। कर्मचारियों के सातवें वेतनमान के एरियर भुगतान शीघ्र किया जाय, कार्यालय में कार्यरत राजस्व मोहरियों का ग्रेड पे नियमानुसार किया जाए तथा पर्यावरण मित्रों को सीएल अवकाश भी दिया जाय तथा नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी, वरिष्ठ लिपिक व सफाई निरीक्षक के स्थानांतरण आदि 10 सूत्रीय मांगों को लेकर पालिका कर्मी हड़ताल पर चले गए थे। नगर विकास महासंघ बड़कोट शाखा अध्यक्ष एवं पर्यावरण मित्र अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार ने कहा है उनकी मांगों पर सहमति बनने के बाद नगर पालिका अध्यक्ष ने मांगों को पूरा करने का भरोसा दिया गया है। जिसके बाद सभी कर्मी अपने-अपने काम पर लौट गए हैं।यदि आश्वासन के अनुरूप मांगें पूरी नहीं हुई, तो कर्मचारी पुन: हड़ताल के लिए मजबूर होंगे। वही नगर पालिका अध्यक्ष अनुपमा रावत ने कहा है कि हड़ताल पर गए कर्मियों के साथ हुई वार्ता में उनकी विभिन्न मांगों पर सहमति बनी है। सभी कर्मचारी अपने काम पर लौट गए हैं।

LEAVE A REPLY