Home उत्तराखंड झबरेड़ा विधायक ने की बाइक से चारधाम यात्रा : यात्रा मार्ग पर...

झबरेड़ा विधायक ने की बाइक से चारधाम यात्रा : यात्रा मार्ग पर अव्यवस्थाओं से नाखुश

663
0
SHARE

रुद्रप्रयाग/डीबीएल संवाददाता। जय बदरी-केदार फिर मोदी सरकार का नारा लेकर मोटर साइकिल से बदरी केदार यात्रा कर लौटे झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल ने कहा कि देश में एक बार फिर मोदी सरकार बन रही है। मोदी को प्रधानमंत्री बनाए जाने की कामना को लेकर उन्होंने मोटरबाइक से चारों धामों की यात्रा की है। मुख्यालय पहुंचे झबरेड़ा विधायक देशराज ने कहा कि यात्रा मार्गो पर जरूरी सुविधाएं जुटाने के लिए वे सरकार को पत्र देंगे। साथ ही विधानसभा में भी प्रस्ताव रखेंगे। उन्होंने कहा कि गैरसैंण उत्तराखंड का दिल और झबरेड़ा प्रवेश द्वार है। इसलिए उनके लिए गैरसैंण दूर नहीं है।

भाजपा विधायक कर्णवाल ने बताया कि मोदी के दुबारा प्रधानमंत्री बनने की चाह को लेकर उन्होंने मोटर साइकिल से श्रीबदरी-केदार की यात्रा की है। कहा कि इस दौरान हाईवे की स्थिति और व्यवस्थाओं को जानने का भी उन्हें मौका मिला। विधायक कर्णवाल ने कहा कि ऋषिकेश-बदरीनाथ और रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड हाईवे पर हर दो से तीन किमी पर यात्री रेन सेट का निर्माण, पेयजल और शौचालय की व्यवस्था को लेकर वे प्रदेश सरकार को एक पत्र देंगे। साथ ही विधानसभा में भी इस बारे में प्रस्ताव रखेंगे। उत्तराखंड में बेरोजगारी की समस्या दिनों दिन बढ़ रही है। इस समस्या से निजात पाने के लिए पहाड़ में रोजगारपरक योजनाओं का संचालन करना जरूरी है। उन्होंने कहा कि बीते पांच वर्षो में मोदी सरकार ने विश्वमंच पर देश को जो पहचान दी है। इसके लिए जरूरी है कि दुबारा मोदी देश के प्रधानमंत्री बनें। कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उत्तराखण्ड में आॅल वेदर सड़क की सौगात दी, जिस पर कार्य किया जा रहा है। आॅल वेदर कार्य के बाद राजमार्गों की स्थिति में बेहद सुधार आया है। राजमार्ग का चैड़ीकरण होने से वाहनों के आवागमन में आसानी हो रही है।

उन्होंने कहा कि चारधाम यात्रा मार्ग पर अव्यवस्थाएं फैली हुई हैं। तीर्थयात्रियों को भारी परेशानियों से जूझना पड़ रहा है। यात्रा पड़ावों पर पानी, शौचालय की व्यवस्था नहीं है। तीर्थयात्री पड़ावों में पानी के लिए भटक रहे हैं, जबकि गंदगी से उन्हें दो-चार होना पड़ रहा है। विधायक झबरेड़ा ने कहा कि चारधाम यात्रा में अव्यवस्थाएं फैली हुई है। इसके लिए मुख्यमंत्री से मुलाकात कर समस्याओं के बारे में अवगत कराया जायेगा।

LEAVE A REPLY