Home उत्तराखंड रवाईं साहित्य महोत्सव में संस्कृति व कला के संरक्षण पर होगा मंथन

रवाईं साहित्य महोत्सव में संस्कृति व कला के संरक्षण पर होगा मंथन

722
0
SHARE

देहरादून।  रवाईं क्षेत्र के इतिहास, कला और सांस्कृति धरोहरों को जीवित रखने के लिए पुरोला में रवाईं साहित्य महोत्सव का दो दिवसीय आयोजन 29 व 30 जुलाई को किया जाएगा। आयोजन में संस्कृति व साहित्य के संरक्षण पर विचार विमर्श किया जाएगा।

रवाईं साहित्य महोत्सव आयोजन समिति के सदस्य प्रवीण भट्ट ने बताया कि रवाईं क्षेत्र की सभ्यता और संस्कृति को नई पीढ़ी तक पहुंचाने के लिए साहित्यिक धरोहरों की भूमिका अहम है। जिसके लिए समिति की ओर से समय-समय पर प्रयास किए जाते रहे हैं। उन्होंने कहा कि रवाईं साहित्य महोत्सव आयोजन समिति, अर्श एवं समय साक्ष्य मिलकर इस बार पुरोला के आईएसबीटी कैम्पस में 29 व 30 जुलाई को रवाईं साहित्य महोत्व-2017 का आयोजन करने जा रहे हैं। आयोजन के दौरान स्थानीय इतिहास, कला, संस्कृति पर मंथन के साथ हिन्दी एवं बाल साहित्य विषयों पर भी विचार विमर्श किया जाएगा। महोत्सव के आयोजन के दौरान पुस्तक मेला, फोटो प्रदर्शनी सहित स्थानीय उत्पादों की प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी। आयोजन में शामिल होने व अन्य जानकारी के लिए मों0 न0 8171059326 एवं 7579243444 पर संपर्क किया जा सकता है।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, Ravai Mahotsava, literature Festival

 

LEAVE A REPLY