Home उत्तराखंड डाकपत्थर में घर-घर जाकर जैविक-अजैविक कूड़ा एकत्र करेगा ई रिक्शा

डाकपत्थर में घर-घर जाकर जैविक-अजैविक कूड़ा एकत्र करेगा ई रिक्शा

1144
0
SHARE

डीबीएल संवाददाता
डाकपत्थर/देहरादून। देहरादून के विकासनगर ब्लाॅक स्थित डाकपत्थर ग्राम पंचायत को स्वच्छ भारत अभियान का पूरक बनाने की दिशा में जागरूकता का कार्य पूरे चरम पर है। गंदगी और कूड़े कचरे से क्षेत्र को पूरी तरह से मुक्त बनाने के लिए जल्द ही इस ग्राम पंचायत में घर-घर से जैविक व अजैविक कूड़े के उठान के लिए ई रिक्शा का संचालन किया जाएगा।

डाकपत्थर ग्राम पंचायत के प्रधान सुबोध गोयल ने बताया कि स्वच्छ भारत अभियान के तहत घरों से जैविक और अजैविक कूड़ा एकत्र करने के लिए ई रिक्शा चलाने का निर्णय लिया गया है। जिसके लिए शुरूआती दौर में विशेष रूप से तैयार किए गए तीन ई-रिक्शा का संचालन शीघ्र किया जाएगा। उन्होंने बताया कि बिजली से चार्ज होने वाले इन ई-रिक्शा के संचालन के लिए पर्यावरण मित्रों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। कूड़ा सेग्रिकेशन सेंटर में भिजवाकर गीले कूड़े से खाद और सूखे कूड़े से बिकने योग्य सामग्री को अलग कर पंचायत की आयवर्द्धन का कार्य किया जाएगा।

गौरतलब है कि राजधानी देहरादून के पर्यटन स्थल के रूप में विख्यात डाकपत्थर ग्राम पंचायत को स्वच्छ और आदर्श बनाने के लिए समय-समय पर ग्राम प्रधान सुबोध उनियाल ग्रामीणों व स्कूली छात्रों के माध्यम से जनजागरूकता अभियान संचालित करते रहते हैं। क्षेत्र के सार्वजनिक स्थलों पर कूड़ेदान निर्माण के अलावा ग्राम पंचायत को पाॅलीथिन मुक्त बनाने के लिए ग्राम पंचायत के माध्यम से कपड़े के झोले भी वितरित किए गए हैं। शौचालय निर्माण को लेकर शौचालय विहीन घरों में शौचालय निर्माण के अलावा डाकपत्थर चैक एवं बस स्टैंड पर हाईटेक शौचालय निर्मित किए गए हैं जो सौर ऊर्जा से संचालित किए जा रहे हैं।

प्रधान सुबोध गोयल अपनी ग्राम पंचायत में स्वच्छ अभियान की सफलता के आयाम का श्रेय अपनी पंचायत के सदस्यों के साथ क्षेत्रवासियों को देते हैं। उनका कहना है कि स्वच्छता अभियान की सफलता के लिए सभी का साथ खड़े होना ही उनकी ऊर्जा का श्रोत है।

LEAVE A REPLY