Home उत्तराखंड 17 घंटे बाद खुला कालसी-चकराता मार्ग, परेशान लोगों ने अवर अभियंता को...

17 घंटे बाद खुला कालसी-चकराता मार्ग, परेशान लोगों ने अवर अभियंता को घेरा

680
0
SHARE

साहिया। बीते कई दिनों से लगातार हो रही बारिश के चलते जौनसार-बावर क्षेत्र के कई गांवों के मार्ग बंद होने से ग्रामीणों का जीना मुहाल हो गया है। लोग घरों में कैद होने को मजबूर हैं। किसानों की नकदी फसलें मंडियों तक नहीं पहुंचने के कारण खराब हो रही है। एक बार फिर से भारी वर्षा के कारण चकराता-कालसी मोटर मार्ग चापनू के पास बंद होने से वाहनों के पहिए थम गए। लोनिवि कर्मचारियों द्वारा मार्ग खोलने के लिए धीमी गति से कार्य किए जाने पर यात्रियों, किसानों का सब्र जवाब दे गया और उन्होंने प्रदर्शन कर विभाग के अवर अभियंता का घेराव किया।

बुधवार रात को सहिया क्षेत्र में हुई भारी बारिश के कारण पहाड़ी से मलबा आने से कालसी-चकराता मोटर मार्ग चापनू के पास बंद हो गया। मार्ग पर आवाजाही ठप होने से वाहनो की लंबी कतार लग गई। वहीं यात्रियों को कई तरह से परेशानियों का सामना करना पड़ा। किसानों की नकदी फसलें मंडियों में समय से नहीं पहुंच सकीं। कई घंटे मार्ग बंद होने और लोनिवि के कर्मचारियों द्वारा मार्ग खोलने के कार्य की धीमी गति से यात्रियों और क्षेत्रवासियों का गुस्सा भड़क उठा। उन्होंने मौके पर मौजूद लोनिवि के अवर अभियंता पंकज बडोनी का घेराव किया। हंगामा बढ़ता देख मौके पर पहुंचे तहसीलदार शक्ति प्रसाद उनियाल और पटवारी कमलेश शर्मा के जल्द मार्ग खोले जाने के आश्वासन पर ग्रामीणों ने घेराव समाप्त किया।

घेराव करने वालो में सुंदर सिंह, संतराम, कुन्दन सिंह, केदार सिंह, मुकेश जैन, बलवीर सिंह, प्रवीन चौहान, पूरण सिंह, जयपाल सिंह, दीवान सिंह, मेहर सिंह आदि शामिल रहे।

Key Words : Uttarakhand, Chakrata, Sahiya, Road Closed, Troubled people, Surrounded

 

LEAVE A REPLY