Home उत्तराखंड तराई संस्थापक पण्डित राम सुमेर शुक्ल की 102वीं जन्मतिथि – सरकार स्वतन्त्रता...

तराई संस्थापक पण्डित राम सुमेर शुक्ल की 102वीं जन्मतिथि – सरकार स्वतन्त्रता संग्राम सेनानियों और आश्रितों के सम्मान के प्रति प्रतिबद्ध : सीएम

721
0
SHARE

रुद्रपुर/देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत मंगलवार को रामलीला मैदान, रूद्रपुर में तराई के संस्थापक एवं महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व.पण्डित राम सुमेर शुक्ल की 102वीं जन्मतिथि पर आयोजित समारोह में सम्मिलित हुए। उन्होंने स्व.शुक्ल की प्रतिमा पर माल्यापर्ण करते हुए कहा कि तराई को बसाने में उनका अहम योगदान रहा है। सरकार स्वतन्त्रता संग्राम सेनानियों और उनके आश्रितों के सम्मान के प्रति प्रतिबद्ध है। सरकार उनके सम्मान मे कोई कमी नही आने देगी। प्रदेश में स्वतन्त्रता संग्राम सेनानियो की मासिक पेंशन 04 हजार से बढ़ाकर 08 हजार रूपये की गई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में भ्रष्टाचार की साजिश का पर्दाफाश कर भ्रष्टाचारियों को कानूनी कठघरे में खडा करने की ठोस कार्यवाही की जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि 8 माह के कार्यकाल में सरकार ने विभिन्न महकमो में व्याप्त भ्रष्टाचार की जड़ों को उखाडने के लिये रणनीति तैयार कर ली है, ताकि दोषियों को कानूनी कठघरे में खडा किया जा सकें। गरीबो का हक हम किसी को छिनने नही देगें।

कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि शिव प्रकाश ने कहा पण्डित राम सुमेर शुक्ल ने जहां देश की आजादी में अपना अहम योगदान दिया वही तराई की स्थापना पर उन्होने महत्वपूर्ण कार्य किये। किच्छा के विधायक राजेश शुक्ला ने पण्डित राम सुमेर शुक्ल के जीवन परिचय पर विस्तृत जानकारी दी गई।

इस अवसर पर वित्त मंत्री प्रकाश पंत, समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अजय भट्ट, पूर्व सांसद बच्ची सिंह रावत, जिला पंचायत अध्यक्ष ईश्वरी प्रसाद गंगवार, रामपुर कारखाना के विधायक कमलेश शुक्ला, विधायक पुष्कर सिंह धामी, राजकुमार ठुकराल, डॉ.प्रेम सिंह, मेयर सोनी कोली, जिलाध्यक्ष शिव अरोरा सहित जिलाधिकारी डॉ.नीरज खैरवाल, एसएसपी डॉ.सदानंद दाते आदि उपस्थित थे।

सूबे का ग्रामीण क्षेत्र जल्द होगा खुले में शौच मुक्त : सीएम

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रो को मार्च के अन्त तक खुले में शौच से मुक्त कर देगी। इसके लिये ठोस कार्ययोजना बनाई गई है। उन्होने कहा जनपद ऊधमसिंहनगर कृषि के क्षेत्र में अग्रणी रहा है। यहा के किसानो की समस्याओं का समाधान सरकार की पहली प्राथमिकता है। उन्होने कहा प्रदेश में अभी तक 39 हजार किसानो को 2 प्रतिशत ब्याज की दर पर एक-एक लाख ऋण उपलब्ध कराया जा चुका है। इसके अच्छे परिणाम आने पर किसानों की ऋण सीमा बढाई जायेगी। सीएम रावत ने कहा अर्द्ध सैनिक बलो के जो जवान वीरगति को प्राप्त होते है उनके एक आश्रित को राजकीय सेवा का लाभ दिया जायेगा। उन्होने कहा कि रूद्रपुर मेडिकल कालेज का कार्य शीघ्र प्रारम्भ करवाया जायेगा तथा नजूल भूमि और वर्ग-4 की भूमि पर मालिकाना हक देने के लिये सरल नीति बनायी जायेगी। उन्होने कहा कि प्रदेश के चिकित्सालयों में चिकित्सको की तैनाती हेतु प्रभावी कदम उठाये जा रहे है।

प्रतिभाओं को किया गया सम्मानित :

शुक्ल स्मृति एवं प्रतिभा सम्मान समारोह के दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने कृषि के क्षेत्र में चौधरी सतेन्द्र सिंह, पशु पालन में चन्द्र अरोरा, उद्योग में अभिषेक अग्रवाल, शिक्षा के क्षेत्र में डॉ.किशन वीर सिंह, वित्तीय साक्षरता हेतु मनोज सुयाल, साहित्य के क्षे़त्र में गौरी मिश्रा, उच्च शिक्षा में श्रीनिवास शर्मा, समाजिक कार्य क्षेत्र में जया मिश्रा, विज्ञान के क्षेत्र में डॉ.एसपी सिंह, समाज सेवा में लाला यादव, चिकित्सा के क्षेत्र में डॉ. हिमांशु बंसल, स्वच्छता के क्षेत्र में ग्राम प्रधान संजय छाबडा व संगीत के क्षेत्र में महेश झा को सम्मानित किया।

Key Words : Uttarakhand, Rudrapur, Ram Suman Shukla, Birth Anniversary, CM

LEAVE A REPLY